दावों की खुली पोल, 3 जिलों की 108 को लगाया फोन, फिर भी समय पर नहीं मिली मदद

सीहोर, अनुराग शर्मा। अहमदपुर स्वास्थ्य विभाग में आज अहमदपुर निवासी जुबेदा भी पति जाहिद अली उम्र 24 वर्ष को प्रसव के लिए स्वास्थ्य केंद्र अहमदपुर लाया गया था। अहमदपुर स्वास्थ्य केंद्र में नॉर्मल महिला का प्रसाब भी करा दिया गया था। लेकिन बच्चों को ब्रीचिंग प्रॉब्लम होने की वजह से दूसरे स्वास्थ्य केंद्र में अस्पताल द्वारा रिफर का परिवार से कहा गया।

परिवार मेहनत मजदूरी करता है और परिवार की हालत भी ठीक नहीं है। दूसरी समस्या यह थी स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों का कहना है कि बिना ऑक्सीजन के बच्चों को भेजा नहीं जा सकता। वही परिजन ओर स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारी ने 108 बुलाने के लिए सीहोर जिले के श्यामपुर अहमदपुर भोपाल जिले के परबलिया बैरसिया फोन लगाया। फोन लगाने पर एक ही जवाब मिला कि गाड़ी अभी उपलब्ध नहीं है। तब कहीं जाकर उम्मीद की किरण जागी राजगढ़ जिले की कुराबर 108 मिलने का कहां गया। लेकिन इस सब घटनाक्रम में लगभग 2 से 3 घंटे परिजन और स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारी परेशान होते रहे। जिसने 108 के तमाम उन दावों की पोल खोल दी है जो 108 द्वारा बताए जाते हैं।