इंदौर पहुंचे CM शिवराज बोले- MP में नशे के कारोबारी छोड़े नहीं जाएंगे, पुलिस और प्रशासन की तारीफ की

मुख्यमंत्री ने नशे के कारोबार के खिलाफ कार्रवाई के लिए इंदौर पुलिस व प्रशासन को बधाई दी। श्री चौहान ने कहा कि अब ऐसे लोग पहचाने जाएंगे जो नशे की लत लगाते हैं। इसके लिए अन्य राज्यों की पुलिस के साथ कॉर्डिनेट करने के निर्देश दिए हैं।

इंदौर, आकाश धोलपुरे| इंदौर (Indore) पहुंचे मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chauhan) ने कहा है कि मध्यप्रदेश (Madhyapradesh) में नशे के कारोबारी छोड़े नहीं जाएंगे। मिलावट के नाम पर जो जहर बेच रहे हैं, उनके खिलाफ कार्रवाई लगातार जारी है। उन्हें नेस्तनाबूद करेंगे। प्रदेश में ड्रग्स और नशे का कारोबार (Drugs Buisness) पनपने नहीं दिया जाएगा। सीएम ने शुक्रवार को इंदौर में ड्रग्स के शिकार बन चुके लोगों के लिए नशा मुक्ति केंद्र का ई-लोकार्पण किया। इस अवसर पर उन्होंने चलित नशा मुक्ति केंद्र का लोकार्पण भी किया। इस अवसर पर राज्यसभा सदस्य ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia), सांसद शंकर लालवानी (Shanker Lalwani) और तुलसी सिलावट (Tulsi Silavat) सहित अन्य जनप्रतिनिधि भी मौजूद थे।

मुख्यमंत्री ने नशे के कारोबार के खिलाफ कार्रवाई के लिए इंदौर पुलिस व प्रशासन को बधाई दी। सीएम पत्रकारों से चर्चा कर रहे थे| श्री चौहान ने कहा कि अब ऐसे लोग पहचाने जाएंगे जो नशे की लत लगाते हैं। इसके लिए अन्य राज्यों की पुलिस के साथ कॉर्डिनेट करने के निर्देश दिए हैं। सीएम ने कहा कि वे बच्चे जो नशे के जंजाल में फंस जाते हैं, उन्हें इससे बाहर निकालेंगे। उन्हें नशामुक्ति केंद्रों में ले जाएंगे। आगे हमारे बच्चे सावधान रहें, इसके लिए जागरूकता अभियान चलाएंगे।

ड्रग्स का काला धंधा करने वालों को जड़ से समाप्त करें
एयरपोर्ट में मुख्यमंत्री श्री चौहान ने इंदौर प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारियों से साफ़ लहज़े में कहा कि ड्रग्स का काला धंधा करने वालों को जड़ से समाप्त करें। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया शुक्रवार शाम को इंदौर पहुँचे। विमानतल पर सांसद शंकर लालवानी सहित विधायकों ने उनका स्वागत किया। पूर्व मंत्री तुलसी सिलावट भी मुख्यमंत्री और सिंधिया के साथ इंदौर पहुँचे थे। शिवराज और सिंधिया ने इंदौर में आयोजित विभिन्न वैवाहिक समारोहों में शिरकत की और नवदंपत्तियों को आशीर्वाद दिया।