सीएम शिवराज का बड़ा बयान – मध्यप्रदेश की धरती पर लव जिहाद चलने नहीं दूंगा

सीएम शिवराज ने कहा कि धर्मान्तरण रोकने के लिए भी कानून बनाया गया है और उन लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी जो गरीब और भोले-भाले आदिवासियों को बहलाकर उनका धर्म परिवर्तन कराने की कोशिश करेंगे।

भोपाल/उमरिया, डेस्क रिपोर्ट| मध्य प्रदेश सरकार (MP Government) लव जिहाद (Love Jihad) को लेकर कानून बनाने जा रही है| लव जिहाद के खिलाफ प्रस्तावित बिल का ड्राफ्ट तैयार किया गया है| इसमें दोषियों को 10 वर्ष की सजा का किया जा रहा है| बुधवार को मंत्रालय में धर्म स्वातंत्र्य विधेयक-2020 के मसौदे को अंतिम रूप देने के लिये गृहमंत्री डॉ नरोत्तम मिश्रा (Narottam Mishra) ने अधिकारियों के साथ चर्चा की| इस बीच मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chauhan) का लव जिहाद को लेकर बड़ा बयान सामने आया है| उन्होंने कहा कि किसी भी सूरत में मध्यप्रदेश की धरती पर लव-जिहाद नहीं चलने दिया जाएगा|

जन जाति गौरव दिवस के कार्यक्रम को संबोधित करते हुए प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने उमरिया जिले के ग्राम डगडौआ में कहा कि लव जिहाद के खिलाफ कानून बनाकर कार्रवाई सुनिश्चित की जाएगी। उन्होंने कहा कि धर्मान्तरण रोकने के लिए भी कानून बनाया गया है और उन लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी जो गरीब और भोले-भाले आदिवासियों को बहलाकर उनका धर्म परिवर्तन कराने की कोशिश करेंगे।

सीएम ने कहा कि देश-प्रदेश में कुछ लोगों द्वारा जनजातियों के धर्मांतरण का कुचक्र रचा जा रहा है। ऐसा प्रयास करने वालों से मैं कहना चाहता हूं कि लालच, भय, प्रलोभन देकर धर्म परिवर्तन कराने वालों की खैर नहीं है। हम कानून बना रहे हैं। ऐसा प्रयास करने वालों के विरुद्ध कड़ी कानूनी कार्रवाई होगी|

बता दें कि लव जिहाद के खिलाफ सख्त कानून बनाया जा रहा है। कानून में दोषियों को 10 साल की सजा का प्रावधान किया जाएगा। पहले यह सजा 5 साल प्रस्तावित की गई थी। बुधवार को गृह मंत्री ने अधिकारियों के साथ बैठक की| डॉ. मिश्रा ने बताया कि विधेयक को अंतिम रूप दिया जा रहा है। इसके पश्चात विधेयक केबिनेट में रखा जायेगा। केबिनेट से पारित होने के बाद विधानसभा के आगामी सत्र में विधेयक प्रस्तुत किया जायेगा।