उपचुनाव में कंप्यूटर बाबा का मास्टर प्लान , 25 विधानसभा सीटों पर लगाएंगे जनता चौपाल

इंदौर, आकाश धोलपुरे। मध्यप्रदेश (MP) में जल्द ही उपचुनाव (By-election) होना है ऐसे में अब सियासत में कंप्यूटर एक बार सीपीयू खोलकर, माउज और की बोर्ड लेकर वाईफाई वाले जोन में जाकर अपना करिश्मा दिखाने को तैयार है। जी हां हम प्रदेश की सियासत की कंप्यूटरीकृत राह की ही बात कर रहे है जो एक बार फिर से मंजिल की तरफ बढ़ रही है।बीते कुछ सालों से प्रदेश की राजनीति में एक शख्सियत ऐसी भी है जो न सिर्फ सियासत बल्कि सियासतदानों को भी हिलाने के तैयार रहती है। कभी हवन तो कभी धार्मिक यात्रा के जरिये सरकार की मुश्किलें बढ़ाने वाले पूर्व मंत्री कंप्यूटर बाबा (Computer baba) ने मंगलवार से दोबारा मोर्चा खोल दिया है।

दरअसल, कंप्यूटर बाबा ने ये मोर्चा प्रदेश की शिवराज सरकार (Shivraj government) और दल बदलने वाले विधायकों के खिलाफ खोला है। कंप्यूटर बाबा ने लोकतंत्र बचाओ यात्रा के अगले पड़ाव में जनता चौपाल का आगाज इंदौर से कर दिया है। याने की अब कंप्यूटर बाबा मुखर होकर उन 25 विधानसभा सीटों में जनता चौपाल लगाएंगे जहां से कांग्रेस सरकार को झटके लगे थे और 15 माह के बाद सरकार गिर गई थी जिसके बाद बीजेपी एक बार फिर सत्ता में आ गई और शिवराज सिंह चौहान फिर से सीएम बन गए। लोकतंत्र बचाओ यात्रा के तहत जनता चौपाल के जरिये कंप्यूटर बाबा शिवराज सरकार का विरोध करेंगे और आम जनता को समझाने जा रहे है कि क्या गलत हुआ और क्या सही है।

कंप्यूटर बाबा ने सबसे पहले लोकतंत्र बचाओ यात्रा में बड़ी संख्या में साधु संत मंदसौर के लिए रवाना हुए है जहां पहली जनता चौपाल (Janta Chaupal) लगाई जाएगी। कम्प्यूटर बाबा ने इंदौर में मीडिया को, भाजपा में शामिल होने वाले कांग्रेस नेताओं को गद्दार बताते हुए कहा कि जनता चौपाल कार्यक्रम के जरिए मतदाताओं से ऐसे गद्दारों को चुनाव में वोट नहीं देने की अपील संत समाज करेगा। संत समाज की ये यात्रा लगभग 1 महीने तक जारी रहेगी। कम्प्यूटर बाबा का कहना है कि किसी भी मतदाता को किसी पार्टी विशेष के पक्ष में मतदान की अपील संत समाज नहीं करेगा लेकिन प्रदेश में जनता के मतदान के बाद चुनी हुई सरकार को गिराने वालों को वोट नहीं करने की अपील जनता से जरुर की जाएगी।

वही कंप्यूटर बाबा ने शिवराज सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि प्रदेश की 25 विधानसभा सीटों पर लोकतंत्र को बचाने के लिए वो अपील करेंगे कि लोग संविधान बचाये क्योंकि जिस तरह से शिवराज सरकार गद्दारों के साथ बैठ गई है वो गलत है जनता ने कांग्रेस सरकार को चुना था और ऐसे में अब दोबारा गद्दारों को बैठने नही दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि अब धर्म और अधर्म की लड़ाई है एक धर्म है जिसमे मतदाता, जनता और साधु संत है दूसरी तरफ अधर्म है जिसके साथ शिवराज सरकार और गद्दार है। अब हम घर घर और गली मोहल्ले जाएंगे और जनता जनार्दन से कहेंगे कि 25 गद्दारों को वोट नही देना है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here