कांग्रेस की शिवराज को सलाह- अब आप भी सुरक्षित घर बैठिये क्योंकि… 

सीएम शिवराज सिंह

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्यप्रदेश में पिछले कुछ दिनों में में लगातार हुई दुष्कर्म (Rape) की घटनाओं ने शिवराज सरकार की चिंता बढ़ा दी है वहीँ विपक्ष को एक मुद्दा दे दिया है। बैतूल (Betul) में नाबालिग (Minor)के साथ हुई हैवानियत के बाद कांग्रेस (Congress), मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj Singh Chauhan)पर आग बबूला है। कांग्रेस (Congress) ने मध्यप्रदेश को रेप कैपिटल (Rape Capital) कहते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj Singh Chauhan) को इस्तीफा देकर सुरक्षित घर बैठने की सलाह दी है।

कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता केके मिश्रा (KK Mishra) ने अपना एक वीडियो सोशल मीडिया पर शेयर करते हुए कहा कि कथित तौर पर आत्मनिर्भर (Self Dependent) मध्यप्रदेश एक रेप कैपिटल (Rape Capital) के रूप आत्मनिर्भर (Self Dependent) हो रहा है पिछले 15  दिनों में 6  से ज्यादा मासूम बच्चियों और महिलाओं के साथ रेप , गैंग रेप, गेंग रेप के बाद उनकी ह्त्या और अपहरण की घटनाएं हो रही हैं। वो गुड़ गर्नेंस वाली सरकार के मुंह पर करारा तमाचा है।

केके मिश्रा (KK Mishra) ने वीडियो में आगे कहा – आज बैतूल (Betul) में जो घटना हुई है उसके दो दिन पहले उमरिया (Umaria)में जो घटना हुई उसने तो मध्यप्रदेश की जनता और हमारी बहनों को शर्मसार कर दिया है। एक तरफ  मुख्यमंत्री जी कहते हैं कि शासकीय कार्यक्रमों में बच्चियों के पैर पूजे जायेंगे, पूज भी रहे हैं।  महिलाओं के सम्मान, उनकी अस्मिता की सुरक्षा के लिए अभियान चल रहा है। लेकिन शायद मामाजी को ये नहीं दिख रहा कि है कि बहनों के साथ भांजियों के साथ क्या हो रहा है ? बेहतर है कि मुख्यमंत्री जी अब आप इस्तीफा (Resignation) देकर मध्यप्रदेश के मुखिया पद से विदाई ले ले।

सोशल मीडिया पर वीडियो शेयर करने के बाद उसका एक हिस्सा अपने ट्वीट के साथ जोड़ते हुए कांग्रेस प्रवक्ता केके मिश्रा ने कहा –  शिवराज जी, राज्य में महिलाओं के सम्मान,सरकारी कार्यक्रमों में बेटियों के पैर पूजने का जहां अभियान चल रहा हैं,वहीं प्रदेश “रेप कैपिटल”बन गया है! सीधी, रीवा, खंडवा, उमरिया के बाद अब बैतूल में एक बच्ची के साथ 9 लोगों द्वारा गैंगरेप!सभी असुरक्षित,अब आप भी सुरक्षित घर बैठिए।

गौरतलब है कि बैतूल जिले के सारणी थाना क्षेत्र में एक अधेड़ उम्र के आदमी ने एक 13 साल की नाबालिग के साथ रेप करने के बाद उसे गड्ढे में फेंक दिया और उसके ऊपर पत्थर डाल दिए और उसे जिंदा दफना (Buried alive) दिया। इस दौरान लड़की को गंभीर चोटें आई है और पीड़िता की हालत नाजुक बताई जा रही है।

पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। बताया जा रहा है कि 13 साल की नाबालिग अपने खेत की पानी की मोटर बंद करने के लिए आई थी। इसी दौरान वही बगल वाले खेत के मालिक ने बच्ची को अपनी हवस का शिकार बनाते हुए उसके साथ दुष्कर्म किया और रेप की खबर किसी को ना लगे इसलिए उसने नाबालिग को गड्ढे में फेंक कर उस पर पत्थर डाल कर उसे जिंदा दफना दिया। जब बहुत देर बाद लड़की खेत से घर नहीं पहुंची तो परिवार वालों को उसकी चिंता होने लगी। जिसके बाद परिजनों ने लड़की की तलाश करना शुरू की। काफी घंटे ढूंढने के बाद परिजनों को पीड़िता की आवाज सुनाई दी।

परिजनों ने तुरंत पहुंचकर लड़की को गड्ढे से बाहर निकाला और नाबालिग को लेकर पुलिस स्टेशन पहुंचे। जहां बच्ची के बयान के आधार पर पुलिस ने आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। साथ ही उपचार के लिए तुरंत बच्ची को जिला चिकित्सालय भेजा गया, जहां उसकी हालत देखते हुए डॉक्टर ने उसे भोपाल रेफर कर दिया। बच्ची की हालत काफी नाजुक बताई जा रही है।