कांग्रेसी नेताओं एव समाजसेवियों ने पुलिस अधीक्षक के नाम एसडीएम को सौंपा ज्ञापन

दतिया/सेवढा।सत्येन्द्र रावत

कोरोनावायरस के संक्रमण को लेकर धारा 144 कलेक्टर दतिया द्वारा संपूर्ण जिले में लगाई गई। साथ ही सोशल डिस्टेंस एवं लोक डाउन के निर्देश का पालन कराने के लिए सभी आला अफसरों को दिए गए। जिसके चलते सेवढा थाने में पदस्थ उपनिरीक्षक अमित साहू 7 अप्रैल को सब्जी मंडी में ड्यूटी कर रहे थे। तभी सब्जी मंडी परिसर में भीड़ ने सोशल डिस्टेंस का पालन करना बंद कर दिया था। एक ही स्थान पर काफी संख्या में लोग एकत्रित हो गए थे।

ड्यूटी में तैनात सब इंस्पेक्टर अमित साहू ने लोगों को समझाया कि कोरोना से बचने के लिए आपस में दूरियां बनाए रखें। इसी दौरान बजरिया मोहल्ला निवासी अमित पाठक द्वारा सोशल डिस्टेंस को लेकर बहस करने लगे एवं पुलिस पर हावी होने का प्रयास किया गया। जिसके बाद अमित पाठक को पुलिस जीप से सेवढा थाने में लाया गया और उन्हें गलती करने पर डाटा गया। इसकी सूचना जैसे ही बजरंग दल, आर एस एस एवं भाजपा के कार्यकर्ता को लगी तो करीब 1 दर्जन से अधिक नेता एवं बजरंग दल एवं आरएसएस के सदस्य थाना परिसर में जा पहुंचे एवं अमित पाठक को छोड़ने के लिए दबाब बनाने लगे। दबाब इतना हुआ कि मौके पर पहुंचे सेवढा एसडीओपी आर एस राठौर ने अमित पाठक को वापस घर भेज दिया गया और थाना परिसर में उपस्थित उक्त लोगों की असत्य शिकायत के आधार पर उपनिरीक्षक अमित साहू को कुछ ही मिनटों में सेवढ़ा थाने से हटाकर पुलिस लाइन दतिया भेज दिया गया।

उक्त कार्रवाई पर महिला कांग्रेस नेता अंजू शर्मा द्वारा पुलिस अधीक्षक दतिया अमन सिंह राठौड़ के नाम एसडीएम सेवड़ा राकेश सिंह परमार के बंगले पर पहुचकर एक ज्ञापन मंगलवार को सौंपा गया। जिसमें उपनिरीक्षक अमित साहू को पुलिस लाइन दतिया से सेवढा थाने में पुनः पदस्थ करने की मांग की गई एवं आवेदन में उल्लेख किया गया कि ड्यूटी के द्वारा सब इंस्पेक्टर अमित साहू द्वारा अपने कर्तव्य का पालन सही ढंग से किया जा रहा था। सब इंसपेक्टर अमित साहू ने कोई भी गलती नहीं की जबकि उनके साथ लाइन भेज कर गलत व्यवहार हुआ। इससे पुलिस की छवि प्रभावित होती है।

सेवढा थाने में रहने के द्वारा उपनिरीक्षक साहू ने कोरोना के लिए प्रशासन की गाइडलाइन का कड़ाई से। पालन करवाया उनके जाने के बाद व्यवस्था में ढील नजर आ रही है और उन पर लाइन अटैच की कार्यवाही से पुलिस का चेहरा दयनीय स्थिति में आ गया है और जगह-जगह लोग सोशल।डिस्टेंस का पालन आमजन के द्वारा नहीं किया जा रहा है। इस कार्रवाई से पुलिस की छवि धूमिल होती नजर।आ रही है अमित साहू को पुलिस पुलिस लाइन दतिया से वापस सेवढा थाने में पदस्थ किया जाए जिससे पुलिस कर्मचारियों का उत्साह बढ़ सके और जिस व्यक्ति द्वारा धारा 144 का उल्लंघन करने का प्रयास।किया गया उनके खिलाफ धारा 188 के तहत नियमानुसार कार्रवाई की जाए। ज्ञापन सौंपने वालों में मुख्य रूप से सुल्तान खान। अंजू शर्मा उपस्थित रहे एवं आवेदन में धारा 144 को देखते हुए सेवढा के गणमान्य नागरिक एवं कांग्रेसी नेताओं जिसमें पूर्व मंडी अध्यक्ष अरुण कुमार शर्मा, उदयवीर सिंह भदौरिया, नरेश यादव, प्रमोद राजपूत, प्रभु दयाल साहू, वीर सिंह, लुक्की समेत लोगों के हस्ताक्षर कर शीघ्र सब इंस्पेक्टर अमित साहू को सेवढा थाने में पदस्थ करने की मांग की गई।