By-Election: कांग्रेसी नेता का “शुद्धिकरण अभियान” पर बड़ा बयान, पार्टी सहित बागी नेताओं को घेरा

MP Politics

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट

उप चुनाव(by-election) से पहले मध्य प्रदेश(madhyapradesh) की सियासत में फिर से एक उबाल देखने को मिल रहा है। एक तरफ जहां सत्ता पक्ष विपक्ष को घेरने की पूरी तैयारी में है। वहीं दूसरी तरफ कांग्रेस(congress) के विधायक(MLA) कांग्रेस पर ही लगातार निशाना बना रहे हैं। पूर्व मुख्यमंत्री और राज्यसभा सांसद दिग्विजय सिंह(digvijay singh) के छोटे भाई लक्ष्मण सिंह(laxman singh) लगातार कांग्रेस पार्टी पर तंज कसते हुए उन्हें उपचुनाव की तैयारियां की सलाह दे रहे हैं। इसी के साथ अब कांग्रेस के शुद्धिकरण अभियान पर भी लक्ष्मण सिंह ने कांग्रेस और बीजेपी को घेरा है।

दरअसल रविवार को कांग्रेस नेता लक्ष्मण सिंह ने ट्वीट करते हुए कहा कि शुद्धिकरण अभियान राजनेताओं का भी होना चाहिए। वहीं कांग्रेस के बागी हुए नेताओं पर तंज कसते हुए लक्ष्मण सिंह ने कहा कि सूटकेस और लूटकेस वाले नेताओं को राजनीति से जनता स्वयं ही हटा देगी। लेकिन पार्टियों को चाहिए कि वह राजनेताओं का शुद्धीकरण करें।

हालांकि यह पहली बार नहीं है जब लक्ष्मण सिंह ने अपनी ही पार्टी को किसी मुद्दे पर घेरा है।पिछले दिनों अयोध्या में हुए राम जन्मभूमि पूजन से एक दिन पूर्व जब पार्टियां राममय होकर राम के नाम पर राजनीति कर रही थी। तब भी लक्ष्मण सिंह ने अपनी पार्टी को घेरते हुए कहा था कि राम मंदिर का शिलान्यास हो चुका है।राम सबका भला करें और इसी के साथ उन्होंने कहा था कि सभी राजनेताओं से आग्रह किया कि देश की अन्य समस्याओं पर ध्यान दें और राम जी के नाम पर राजनीति बंद करें।

बता दे कि पिछले दिनों मध्यप्रदेश में कांग्रेस पार्टी द्वारा शुद्धिकरण अभियान की शुरुआत की गई थी। इस अभियान की शुरुआत प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने की थी।जहां इस अभियान के तहत उपचुनाव वाले सभी 27 विधानसभा क्षेत्रों में शुद्धिकरण के लिए लोगों को आधा लिटर गंगाजल की बोतल सौंपे जाने का निर्णय लिया गया था। इसको लेकर पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष चंद्रप्रकाश शेखर का कहना था कि दल बदलने वाले विधायकों ने जनता के साथ धोखा लिया था। जिसके वजह से शुद्धिकरण अभियान चलाया जा रहा है। ईश्वर कांग्रेसी नेता लक्ष्मण सिंह ने अपनी ही पार्टी पर बड़ा बयान दिया है।