खाली ऑक्सीजन सिलेंडर लेकर धरने पर बैठी कांग्रेस, पीएम मोदी से अपील, सांसें लौटा दो

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट।  मध्यप्रदेश में ऑक्सीजन (Oxygen) की कमी से एक तरफ मरीज परेशान है लेकिन इस कमी ने कांग्रेस (Congress) को सियासत करने की ऑक्सीजन (Oxygen) जरूर दे दी है।  कांग्रेस (Congress) ने ऑक्सीजन (Oxygen) की कमी को लेकर मिंटो हाल गांधी जी की प्रतिमा के नीचे खाली ऑक्सीजन सिलेंडर (Oxygen Cylinder) के साथ धरना दिया।  कांग्रेस (Congress) ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) से अपील करते हुए कहा कि हमारा मुख्यमंत्री (CM) असहाय हो गया है आप हमारी सांसें लौटा दो हम आपके साथ हैं।

मध्यप्रदेश में कोरोना मरीजों की बढ़ती संख्या अब विषम हालात पैदा कर रही है। अस्पतालों में ऑक्सीजन (Oxygen) गायब है, इलाज के अभाव में मरीज की जान जा रही है ऐसे में कांग्रेस (Congress) अब मैदान में आ गई है। कांग्रेस (Congress) के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व मंत्री पीसी शर्मा, पूर्व मंत्री जीतू पटवारी और कांग्रेस विधायक कुणाल चौधरी ने ऑक्सीजन (Oxygen) की कमी को लेकर मिंटो हॉल स्थित गांधी प्रतिमा के नीचे खाली ऑक्सीजन सिलेंडर (Oxygen Cylinder) के साथ धरना दिया। कांग्रेस के तीनों दिग्गज नेता खाली सिलेंडर खाली ऑक्सीजन सिलेंडर (Oxygen Cylinder) कंधे पर रखकर गांधी प्रतिमा के नीचे पहुंचे और धरने पर बैठे।

ये भी पढ़े – कोरोना की चपेट में आए मुख्यमंत्री, ट्वीट कर दी जानकारी, सिंधिया ने की स्वास्थ्य लाभ की कामना

खाली ऑक्सीजन सिलेंडर लेकर धरने पर बैठी कांग्रेस, पीएम मोदी से अपील, सांसें लौटा दो खाली ऑक्सीजन सिलेंडर लेकर धरने पर बैठी कांग्रेस, पीएम मोदी से अपील, सांसें लौटा दो

पूर्व मंत्री जीतू पटवारी ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj Singh Chauhan) पर आत्मनिर्भरता के नाम पर झूठ परोसने के आरोप लगाते हुए कहा कि कोरोना के दूसरे पेंडेमिक में उनकी पोल खुल गई। आज ऑक्सीजन (Oxygen) की कमी के कारण लोगों की जान जा रही है। पूर्व मंत्री जीतू पटवारी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से आग्रह किया कि मेरा मुख्यमंत्री असहाय हो गया है सरकार असहाय हो गई है , आप हमें सांसें दे दो हम आपके साथ हैं। कांग्रेस विधायक जीतू पटवारी ने कहा कि महाराष्ट्र और गुजरात ने हमें ऑक्सीजन (Oxygen) देने से मना कर दिया है इसलिए और परेशानी बढ़ गई है। उन्होंने आरोप लगाया कि इससे बड़ी महामारी और अराजकता का माहौल और कहीं देखने को नहीं मिल रहा जो मध्यप्रदेश में देखने को मिल रहा है।

ये भी पढ़ें –कोरोना से स्थिति गंभीर, मिले 9720 पॉजिटिव, 24 घंटे में सबसे ज्यादा रिकॉर्ड 51 मौतें