पूर्व विधायक के भूमिपूजन पर गहराया विवाद

अशोकनगर|हितेन्द्र बुधौलिया

दो दिन पहले शहर की पंजाबी कालोनी में सी सी रोड के भूमि पूजन का मामला पूर्व विधायक जजपाल सिंह जज्जी एवं कॉंग्रेस पार्टी के बीच तनातनी का मामला बनता जा रहा है। पूर्व विधायक जहां इसे विकास के कार्य होने का मामला बता रहे है वही कोंग्रेस पूर्व विधायक पर झूठी वाहवाही एवं श्रेय लेने का आरोप लगा रही है।इस मामले में विवाद लगातार बढ़ रहा है।कॉंग्रेस का आरोप है कि जिस कार्य का भूमिपूजन पूर्व में नगरपालिका अध्यक्ष द्वारा किया जा चुका है उसी काम का भूमिपूजन नही होना चाहिये था।साथ ही कोंग्रेस ने बड़ा सवाल किया है कि पूर्व विधायक जज्जी किसी संवैधानिक पद पर नही है।तो किस अधिकार से भूमिपूजन कर रहे है।कॉंग्रेस ने इस आयोजन में कलेक्टर की उपस्थित पर भी सवाल खड़े किये है।इस समय जब किसी तरह के सामूहिक आयोजन नही हो रहे तो भूमिपूजन कैसे किया गया।

कोंग्रेसियो के आरोपों के बाद पूर्व विधायक जजपाल सिंह सामने आये है। उनका कहना है कि उन्हें नगरपालिका cmo ने भूमिपूजन के लिये आमंत्रित किया था,उनका कहना है कि जिस कार्य का भूमि पूजन हुआ है उसका वर्कऑडर मार्च माह में जारी किया गया है। जज्जी का कहना है कोंग्रेस नेताओ द्वारा उन पर को आरोप लगाए जा रहे है वह झूठे है एवं उनकी छवि खराब करने बाले है। जिसको लेकर वह कानूनी कार्यवाही पर विचार कर रहे है।

उप चुनाव से पहले कोंग्रेस से बगाबत करके भाजपा में शामिल हुए पूर्व विधायक जजपाल सिंह जज्जी को घेरने में कोंग्रेस कोई कसर नही छोड़ रही ।दो दिन पहले हुये सी सी रोड के भूमिपूजन के फ़ोटू जैसे ही सोशल मीडिया पर आये तो कोंग्रेस मुखर हो गई उन्होंने इसी काम के बीते दिसम्बर में हुये भूमि पूजन के फोटू जारी कर दिये जो तत्कालीन भाजपा की नपाध्यक्ष सुशीला साहू एवं पार्षद मोनिका भट्ट द्वारा किये गया था। कोंग्रेस ने पूर्व विधायक पर सत्ता के दुरूपयोग करके झूठी वाहवाही लूटने का आरोप लगाया।इस आयोजन में कलेक्टर की सहभागिता पर सवाल खड़े किये गये। कॉंग्रेस के प्रदेश सचिव दसरथ सिंह रघुवंशी का कहना है कि यह मामला किसी व्यक्ति के विरोध का नही है।

सवाल सिर्फ पूर्व विधायक को भूमिपूजन के अधिकार एवं कोरोना संक्रमण में जब सभी कार्य बंद है तो यह भूमिपूजन कैसे हुआ उस पर है।उनका कहना हैं जब पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह पर सोशल डिस्टेंस को लेकर कार्यवाही हो सकती है ।तो यह नियम दूसरे लोगो के लिये अलग कैसे हो सकते है।श्री रघुवंशी ने सरकारी स्तर पर कार्यक्रम के आयोजन पर भी सवाल किया है कि जब रविवार को शहर में टोटल लोकडाउन था तो अधिकारी भूमिपूजन कैसे करा सकते है।इसी मुद्दे को लेकर सोमवार को कॉंग्रेस ने एक ज्ञापन प्रशासन को सौपा है।

इस मुद्दे पर पूर्व विधायक जजपाल सिंह जज्जी का कहना है कि कोंग्रेस सिर्फ झूठ फैला रही है।भाजपा द्वारा कराए जा रहे विकास कार्यो से बौखला गई है।उनका कहना है कि जिस भूमिपूजन को कोंग्रेस दिसम्बर माह का बता रही है उसका वर्क ऑर्डर ही 17 मार्च को हुआ है।जबकि नपा का कार्यकाल 8 जनवरी को खत्म हो चुका है।उनका का कहना है कि कोंग्रेस मनगढ़ंत बातें करके उनकी छवि खराब कर रही है।इसलिय वह इस मामले में विधि विशेषज्ञो से सलाह ले रहे है।

पूर्व विधायक के भूमिपूजन पर गहराया विवाद

पूर्व विधायक के भूमिपूजन पर गहराया विवाद