राजगढ़ में कुल भैरव के चबूतरे पर विवाद, पूर्व पार्षद पर जानलेवा हमला

राजगढ़, डेस्क रिपोर्ट। जिले के खिलचीपुर में कलाल समाज के कुल भैरव के स्थान पर कब्जा किए जाने को लेकर हुए विवाद हो गया, जिसमें कब्जा करने वाले पक्ष के लोगों ने खिलचीपुर कलाल समाज के अध्यक्ष एवं पूर्व पार्षद राकेश जयसवाल व अन्य लोगों पर पत्थरों एवं लाठियों से हमला बोल दिया। हमले में कांग्रेस के पूर्व पार्षद राकेश जायसवाल एवं विजय वर्मा गंभीर रूप से घायल हुआ है। उन्हें खिलचीपुर अस्पताल में प्राथमिक उपचार के बाद राजगढ़ जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया। विवाद का वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है, जिसमें हमलावर कांग्रेस नेता राकेश पर हमला बोल रहे हैं और कुछ लोग जान बचाकर भाग रहे हैं।

मुरैना- ट्रेन की चपेट में आने से एक महिला की मौत, 70 बकरियां भी मारी गई

राजगढ़ जिले के खिलचीपुर में इमली स्टैंड पर कलाल समाज के कुल भैरव महाराज का चबूतरा बना था। यह चबूतरा लगभग 100 साल से अधिक  पुराना है। पीड़ित पक्ष का आरोप है की कुल भैरव के चबूतरे को हटाकर कंवरलाल दांगी दुकान बना रहे थे, जिसकी शिकायत कलेक्टर राजगढ़ व खिलचीपुर तहसीलदार से पूर्व पार्षद राकेश जायसवाल ने की थी। इस शिकायत पर शनिवार को जांच करने तहसीलदार एवं राजस्व विभाग का दल पहुंचा था। इसी दौरान सीमांकन करने से पहले ही कब्जा करने वाले कंवरलाल दांगी व राकेश जयसवाल के बीच कहा सुनी हो गई, जिसको देखते हुए राजस्व का अमला बिना सीमांकन किये ही लौट गया। इधर कहा सुनी के साथ ही चबूतरे पर कब्जा कर दुकान बनाने वाले कंवरलाल दांगी एवं उनके साथी गोरीलाल दांगी ,गोवर्धन दांगी, संजू दांगी ,गिरिराज दांगी, रामेश्वर सहित अन्य लोगों ने कांग्रेस नेता राकेश जायसवाल और विजय वर्मा पर लाठियों और पत्थरों से हमला बोल दिया। हमला होता देख कुछ लोग जान बचाकर भाग निकले।

इस दौरान किसी ने पूरी घटना का वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया है जिसमें आरोपियों द्वारा पूर्व पार्षद राकेश जयसवाल पर लाठियों और पत्थरों से हमला होते देखा जा सकता है। वहीं कई और लोग खुद को बचाने के लिए भाग रहे हैं। ये सारे वीडियो एमपी ब्रेकिंग न्यूज के पास है लेकिन उनमें से कई इतने हिंसक है कि हम आपको दिखा नहीं सकते। इस हमले में कांग्रेस नेता राकेश जायसवाल एवं विजय वर्मा को गंभीर चोंट आई है, जिन्हें प्राथमिक उपचार के बाद राजगढ़ के जिला अस्पताल रेफर किया है। घटना की सूचना के बाद खिलचीपुर पुलिस ने जांच शुरू कर दी है।