बढ़ती लापरवाही से इंदौर में कोरोना ब्लास्ट, मिले 326 संक्रमित, प्रशासन की सख्त हिदायत

इंदौर, आकाश धोलपुरे।  सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क न लगाने के साथ ही बार – बार हाथ न धोने के चलते आज इंदौर एक ऐसे मुकाम पर आकर खड़ा हो चुका है जहां कोविड – 19 इंदौर को तार – तार करने के लिए बेताव है। दरअसल, गुरुवार रात को जारी किए गए सरकारी आंकड़ों के हिसाब से तो ये कहा जा सकता है कि अब इंदौर वाकई उस झोन में जा पहुंचा है जहां ये कहना मुनासिब होगा की सावधानी हटी और दुर्घटना घटी।

दरअसल, ये असल सच है जो इंदौर में कुछ लोग नही मान रहे है और इसी का परिणाम है कि अब कोरोना के आंकड़े इंदौर पर हावी होते जा रहे है। गुरुवार रात को जारी हेल्थ बुलेटिन के मुताबिक इंदौर में रिकार्ड 326 नये संक्रमित सामने आए है जिसके बाद इंदौर में कोरोना के कुल पॉजिटिव मरीजो की संख्या 16 हजार के आंकड़े को पार कर 16090 तक जा पहुँची है वही अब इस आंकड़े में 4 हजार 555 मरीज ऐसे भी शामिल है जिनका इलाज वर्तमान में जारी है। इधर, राहत की बात सिर्फ उए है कि कोरोना से ठीक होने वालों की संख्या 11091 तक जा पहुंची है लेकिन प्रशासन के लिए चिंता का सबव बढ़ता डेथ रेट है और अनं तक इंदौर कोरोना के कारण जान गंवाने वालो की संख्या 444 तक जा पहुंची है। गुरुवार को 6 लोग कोरोना से जंग हारकर दुनिया को अलविदा कह चुके है।

जिसके बाद इंदौर में कोरोना को लेकर कोहराम मचा हुआ है जबकि प्रशासन कई दफा लोगो को हिदायत
दे चुका है कि कोविड दिशा निर्देशों का पालन जरूर करे। बीते 2 दिनों में लोगो की लापरवाही को लेकर इंदौर निगम प्रशासन 3 लाख रुपये से ज्यादा की चालानी कार्रवाई कर चुका है और अब ज़रूरत है कि लोग स्वयं खुद की और खुद के अपनो की रक्षा स्वयं करे क्योंकि ये कोरोना है जो नाम, धाम, काम को देखकर नही बल्कि लोगो की लापरवाही के चलते तेजी से बढ़ता है। फिलहाल, इंदौर में कोरोना से हाल बेहाल है और जब राजनीतिक दल कोरोना को धता बताकर कोरोना को ठेंगा दिखा रहे है। ऐसे में कोरोना भी कहा रुकने वाला है। ये चीनी वायरस अब राजनीतिक दलो को आईना दिखाने के लिए काफी है जो उपचुनाव की सियासत के चलते कभी रैलितो कभी धार्मिक यात्रा के नाम पर लोगो की जान जोखिम में डालने का काम कर रहे है। इसलिये हमारी आपसे अपील है कि आप सतर्क रहें और सुरक्षित रहे क्योंकि कोरोना से डरने की नही बल्कि सावधानी बरतने की जरूरत सभी को है फिर वो आम नागरिक हो फिर कोई खास राजनीतिक सेलिब्रिटी ? सवाल तो उठेंगे जिनके हाथों में सरकार और विपक्ष है उन्हें जबाव देना ही होगा।

MP Breaking News

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here