नई दिल्ली।

अमेरिका में अब एक बाघिन कोरोना पॉजिटिव पाई गई है। जिससे पूरी दुनिया में की मुश्किलें बढ़ती नजर आ रही है। इसी बीच भारत सरकार नई गाइडलाइन जारी करते हुए देश के सभी चिड़िया घरों को हाई अलर्ट पर रहने का कहा है। सेंट्रल जू अथॉरिटी ने सभी चिड़िया घरों को यह आदेश जारी किया है कि वह सीसीटीवी के जरिए सभी जानवरों की 24 घंटे निगरानी करें।

सेंट्रल जू अथॉरिटी ने गाइडलाइन जारी करते हुए कहा है कि किसी भी जानवर में अगर असामान्य व्यवहार एवं लक्षण दिखे तो उसके तुरंत जांच कराई जाए। वही सेंट्रल जू अथॉरिटी के सचिव एसपी यादव ने बताया कि जानवरों की सावधानीपूर्वक निगरानी आवश्यक है। और यदि जानवर कोई असामान्य व्यवहार करते हैं या उनमें इस वायरस के कोई लक्षण दिखाई देते हैं तो उनके सैंपल जांच के लिए एनिमल हेल्थ इंस्टिट्यूट भेजा जाए। सेंट्रल जू अथॉरिटी ने कोरोना संदिग्ध जानवरों को कारंटाइन करने के भी निर्देश जारी किए हैं। जिसके लिए भारत में तीन प्रयोगशाला बनाई गई है जो कोरोना संदिग्ध जानवरों की टेस्टिंग करेगी।

बता दे कि अमेरिका में पहला ऐसा मामला सामने आया है जब कोविड19 का संक्रमण इंसानों से जानवर में फैला है। अमेरिका में एक बाघिन कोरोना वायरस के संक्रमण में आ गई है। वही विशेषज्ञों का कहना है कि अगर विश्व में यह बीमारी जानवर में फैलता है तो इस पर काबू पाना मुश्किल हो जाएगा। इसके साथ ही भारत के सेंट्रल जू अथॉरिटी ने आदेश जारी करते हुए सभी चिड़ियाघरों को सचेत रहने के निर्देश जारी किए।

Corona effect: सेंट्रल जू अथॉरिटी ने जारी की गाइडलाइन, कोरोना संदिग्ध जानवरों को लेकर कही यह बड़ी बात