मंदसौर। तरुण राठौर।

इस समय देशभर में कोरोना वायरस का प्रकोप चल रहा है। जिसको देखते हुए प्रशासन ने लाकडाउन लगा रखा है। जिससे की ये महामारी ओर न फैल सके। इससे बचने के लिए जहां लोगों को सेन्ट्राइट किया जा रहा है। इसके साथ ही सोशल डिस्टेंस का भी पालन करने की अपील की जा रही है। ऐसे में एक समाजसेवी नारू भाई ने नवाचार करते हुए एक सेन्ट्राइट मशीन का निर्माण किया है वो भी महज 48 घण्टों में।

इस समय जहां देशभर के वैज्ञानिक इस महामारी से बचने का तरीका निकाल रहे है। इसी दौरान मंदसौर के समाजसेवी ने जो मशीन बनाई है उसके प्रयोग से नगर इस महामारी को रोका जा सकेगा। जो की इस वक़्त एक अद्वितीय योगदान है देश हित में।नारू भाई ने बताया कि इस मशीन से 1 मिनिट में 15 से 20 लोगों को सेन्ट्राइट किया जा सकेगा। इसके लिए इस मशीन में 6 फवारे लगाए है जो उसमें से निकलने वाले लोगों पर सेन्ट्राइट घोल का छिड़काव करेगे। हैरत की बात ये है कि किसी भी व्यक्ति के पैसे, कागज तक इससे गीले नही होगें। जो घोल रहेगा उसके लिए 100 लीटर की टँकी लगी होगी। साथ ही ये मशीन 5 फिट लम्बी होगी। जिसे अब प्रशासन की मदद से वो जिला अस्पताल को दान करेंगे

वहीं अस्पताल प्रबन्धक संजीव मालवीय का कहना है कि इस मशीन से जिला अस्पताल को बहुत लाभ होगा। जिसकी मदद से हम अस्पताल में आने जाने वाले नर्स डॉक्टर व अधिकारियों सहित अन्य लोगों को भी सेन्ट्राइट कर सकेंगे।

Corona effect: एमपी के समाजसेवी ने किया सेंट्राइट मशीन का निर्माण, यह है इसकी खासियत