Corona: संक्रमण की चेन तोड़ने बढाई गई सैंपलिंग, जांच को मिलेगी रफ़्तार

जबलपुर।संदीप कुमार

जबलपुर में लगातार बढ़ते कोरोना वायरस के मरीजों को देखते हुए इसकी चेन तोड़ने के लिए जिला प्रशासन ने अब पूल सैंपलिंग बढ़ा दी है।जिले में अब तक पूल सैंपलिंग के जरिए 636 लोगों के सैंपल लिए जा चुके हैं। इस तरीके से अब स्वास्थ्य विभाग रोजाना 50 से ज्यादा लोगों के सैंपल करेगा।पूल सैंपलिंग से कोरोना जांच को रफ्तार मिली है, साथ ही कई मरीज सामने भी आए हैं।

जिले में अब तक 12,385 सैंपल की जांच की जा चुकी है, इनमें से 400 लोग संक्रमित पाए गए हैं. जबलपुर शहर की आबादी लगभग 18 लाख है, इस हिसाब से देखा जाए, तो अब तक जबलपुर में 1 प्रतिशत आबादी का भी सैंपलिंग नहीं हुआ है. पूल सैंपलिंग कर रहे डॉक्टरों का कहना है कि, ‘सार्वजनिक क्षेत्र में काम करने वाले लोगों को अपने टेस्ट करवा लेना चाहिए, ताकि उनके दिमाग से भ्रम निकल सके और अगर कोई समस्या है तो उनको इलाज मिल सके।अभी तक ग्वारीघाट, सब्जी मंडी, करमचंद चौक ऐसे सार्वजनिक स्थानों पर पुल सैंपलिंग की जा रही है क्योकि अभी तक ज्यादातर मामले यही से सामने आए हैं,जिनमें मरीज की पहले से ह मेडिकल हिस्ट्री रही है।हालांकि अभी जिले में स्थिति नियंत्रण में है. पूल सैंपलिंग में लोग बढ़चढ़ कर हिस्सा भी ले रहे है, ताकि कोरोना संक्रमण को फैलने से रोका जा सके।जबलपुर कलेक्टर भरत यादव ने भी सभी से आग्रह किया है कि पूल सेम्पलिंग के लिए ज्यादा से ज्यादा लोग सामने आए।