Corona Vaccination : CM शिवराज सिंगरौली से करेंगे अभियान की शुरुआत, 28 दिन बाद लगेगा दूसरा डोज

सीएम ने कहा 16 जनवरी से प्रारंभ हो रहे अभियान के लिये पूरे प्रदेश में आवश्यक व्यवस्थायें कर ली गयी हैं। टीकाकरण के लिये तय प्रोटोकाल के अनुसार नागरिकों को वैक्सीन के दो डोज लगेंगे। पहला डोज लगने के पश्चात इसे 28 दिन बाद पुन: लगाया जायेगा।

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट| प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा 16 जनवरी सुबह 10:30 बजे पूरे देश में कोविड वैक्सीनेशन (Covid Vaccinatation) का शुभारंभ किया जा रहा है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj singh Chauhan) सिंगरौली (Singrauli) से अभियान की शुरुआत करेंगे| जबकि स्वास्थ्य मंत्री डाॅ. प्रभुराम चौधरी और चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग भोपाल (Bhopal) में होने वाले कार्यक्रम में शामिल होंगे। भोपाल में जेपी अस्पताल में यह कार्यक्रम होगा।

मुख्यमंत्री ने कहा है कि कोरोना वायरस से बचाव के लिए वैक्सीन संजीवनी बूटी जैसी है। नागरिकों को क्रमानुसार इसका लाभ मिलेगा। प्रदेश में प्रथम चरण में करीब सवा चार लाख हेल्थ केयर वर्कर्स को टीका लगाया जाएगा। उन्होंने कहा कि कोविशील्ड और कोवैक्सीन पूरी तरह सुरक्षित हैं। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने आव्हान किया कि जिलों के प्रशासनिक अधिकारी, जनप्रतिनिधि, धर्मगुरू, समाज सेवी और मीडिया वैक्सीन के बारे में किसी भी तरह की भ्रामक जानकारी या अफवाह को नहीं पनपने दें। सभी नागरिक सक्रिय सहयोग देकर इस महाभियान को सफल बनायें।

28 दिन बाद दूसरा डोज
सीएम ने कहा 16 जनवरी से प्रारंभ हो रहे अभियान के लिये पूरे प्रदेश में आवश्यक व्यवस्थायें कर ली गयी हैं। टीकाकरण के लिये तय प्रोटोकाल के अनुसार नागरिकों को वैक्सीन के दो डोज लगेंगे। पहला डोज लगने के पश्चात इसे 28 दिन बाद पुन: लगाया जायेगा।

प्रथम चरण में हेल्थ वर्कर्स को लगेगी वैक्सीन
प्रथम चरण में हेल्थ वर्कर्स, द्वितीय चरण में फ्रंट लाइन वर्कर्स का टीकाकरण होगा। तृतीय चरण में पचास वर्ष की आयु से अधिक सभी नागरिकों तथा ऐसे नागरिकों जो पचास वर्ष से कम आयु के हैं, परंतु मधुमेह और उच्च रक्तचाप की समस्या से ग्रस्त हैं, उनका टीकाकरण किया जाएगा।

प्रथम चरण में 4.17 लाख हेल्थ वर्कर्स का वैक्सीनेशन
मध्यप्रदेश में प्रथम चरण में लगभग 4 लाख 17 हजार हेल्थ केयर वर्कर्स को चरणबद्ध तरीके से वैक्सीनेट किया जाएगा। शुरू के पहले हफ्ते में 150 स्वास्थ्य संस्थाओं पर लगभग 57 हजार हेल्थ केयर वर्कर्स, दूसरे हफ्ते में 177 स्वास्थ्य संस्थाओं से संबद्ध लगभग 55 हजार हेल्थ केयर वर्कर्स का वैक्सीनेशन किया जाएगा। इन्हीं हेल्थ केयर वर्कर्स को 28 दिवस के बाद दूसरी डोज भी लगाई जाएगी। चरणबद्ध तरीके से प्रदेश के सभी 4 लाख 17 हजार हेल्थ केयर वर्कर्स का समयबद्ध वैक्सीनेशन सुनिश्चित किया जायेगा।

प्रथम चरण में मिले 5 लाख 6 हजार से अधिक डोज
प्रदेश को प्रथम चरण में कोविशील्ड वैक्सीन के 5 लाख 6 हजार 500 डोज प्राप्त हो चुके हैं। यह वैक्सीन सभी जिलों को आवश्यकतानुसार आवंटित की गई है। यह वैक्सीन राज्य सरकार एवं केन्द्र सरकार के हेल्थ केयर वर्कर्स, प्राइवेट संस्थाओं के हेल्थ केयर वर्कर्स एवं आर्म्ड फोर्स के हेल्थ केयर वर्कर्स के लिये उपलब्ध कराई जा रही है। प्रत्येक सेशन साइट पर 3 कमरों की व्यवस्था होगी – वेटिंग हॉल, वैक्सीनेशन कमरा, ऑब्जर्वेशन कमरा। इसके अतिरिक्त प्रत्येक साइट पर पानी पीने की व्यवस्था, शौचालय, आवश्यक संसाधन जैसे- सीरिंज, मास्क, सेनेटाइजर एवं बायोमेडिकल वेस्ट मैनेजमेंट की व्यवस्था की जायेगी।