CM शिवराज का बड़ा बयान- संक्रमणकाल में मंथन कर जनता तक पहुंचाऊंगा आर्थिक अमृत

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट

मध्य प्रदेश(madhyapradesh) में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान(Chief Minister Shivraj Singh Chauhan) ने आत्मनिर्भर भारत की तर्ज पर आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश(aatamnirbhar madhyapradesh) के लिए वेबीनार की शुरुआत की। आत्मनिर्भर मध्य प्रदेश के तर्ज पर ही प्रदेश के विकास का रोड मैप तैयार किया गया है। वहीं चर्चा के दौरान मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा के हमने विकास, सड़क, बिजली, पानी, कृषि के क्षेत्र में काम किया है। इसके साथ ही कोरोना काल में गरीबों और वंचितों को लाभ पहुंचाने की व्यवस्था भी की गई है। वही सीएम शिवराज ने कहा कि कोरोना ने अर्थव्यवस्था की कमर तोड़ दी है लेकिन हम हाथ पर हाथ धरकर नहीं बैठ सकते। उन्होंने उम्मीद जताई है कि आत्मनिर्भर मध्य प्रदेश के रोड मैप(roadmap) से अमृत निकलेगा और उस अमृत को जनता तक सीएम शिवराज लेकर आएंगे।

दरअसल शुक्रवार को वेबिनार पर चर्चा करते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि आत्मनिर्भर भारत का जो मंत्र प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दिया है। उससे ही मेरे मन में आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश का विचार आया था। जिसके बाद ही हम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आवाहन पर आत्मनिर्भर मध्य प्रदेश के निर्माण कार्य में जुटे हुए हैं। सीएम शिवराज ने चर्चा के दौरान यह भी कहा कि इस महामारी के काल में वंचितों को लाभ देने के लिए पीएम स्वनिधि योजना को बेहतर तरीके से मध्य प्रदेश में लागू किया गया।

कोरोना काल में बनाया रोजगार सेतु पोर्टल

इधर सीएम शिवराज ने कहा कोरोना जैसी भयावह महामारी के बीच मध्यप्रदेश एक ऐसा राज्य था जिसने रोजगार सेतु पोर्टल बनाकर प्रदेश में लोगों को रोजगार दिया। और इसके साथ ही रोजगार देने वालों और लेने वालों के बीच में एक सेतु का भी निर्माण किया। मजदूर और गरीब तबकों को किसी तरह की परेशानी का सामना ना करना पड़े इसके लिए मध्यप्रदेश सरकार ने कई योजनाएं लागू की।

होंगे रोजगार के अवसर सृजित

मध्यप्रदेश में चंबल प्रोग्रेस वे पर चर्चा करते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि मध्यप्रदेश में भौतिक अधोसंरचना के विकास के लिए सरकार निरंतर प्रयासरत है। चर्चा के दौरान शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि प्रदेश में चंबल प्रोग्रेस वे  के विकसित होने के साथ ही रोजगार के अवसर सृजित होंगे। पर्यटन की असीम संभावनाएं बनेगी और लोगों को रोजगार मिलेगा। हमने इसके लिए सैलानी और हनुवंतिया टापू भी विकसित किए हैं।

महिला सशक्तिकरण के मुद्दे पर ये बोले शिवराज

प्रदेश में महिला सशक्तिकरण के मुद्दे पर बोलते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि मध्यप्रदेश में महिला को सुदृढ़ एवं सशक्त करने के लिए भी कई तरह के कार्य किए गए हैं। महिला स्व सहायता समूह को कैसे सशक्त किया जाए इस पर भी सरकार निरंतर कार्य कर रही है।वही महिला सशक्तिकरण पर बोलते हुए सीएम शिवराज ने कहा कि कोरोना संक्रमण काल में महिलाओं ने जिस तरह आगे बढ़कर आर्थिक रूप से सशक्त बन कर दिखाया है। वह वाकई तारीफ के काबिल है।

बता दे कि प्रधानमंत्री मोदी के आज निधिवन निर्भर भारत की तर्ज पर आत्मनिर्भर मध्य प्रदेश शिवराज सिंह चौहान की बहुप्रतीक्षित योजना है। जिस पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान अपनी दृष्टि बनाए हुए हैं। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि मध्यप्रदेश देश का दिल है। हम यहां से अपने सामान सारी दिशाओं में भेज सकते हैं। हमारे पास कच्चे मालों का खान है। अर्बन डेवलपमेंट हो रियल स्टेट को बढ़ावा देने के साथ ही साथ हम व्यापार के नए साधन भी हम खोल सकते हैं। सीएम शिवराज ने कहा कि अलग-अलग पहलुओं को ध्यान में रखकर आर्थिक सशक्तिकरण की ओर भी अनेक कदम उठाए गए हैं।