Coronavirus: कोरोना से हारे पूर्व सांसद और वरिष्ठ कांग्रेस नेता, इलाज के दौरान निधन

congress-delhi-candidates-list-for-lok-sabha-elections-

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट

देश में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा तेजी से बढ़ता जा रहा है, वही मरने वालों की संख्या मे भी तेजी से इजाफा हो रहा है।अब गाजियाबाद के पूर्व सांसद और कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं में शुमार सुरेंद्र प्रकाश गोयल (congress senior leader Surendra Prakash Goyal ) कोरोना से हार गए है, शुक्रवर को उनका इलाज के दौरान निधन हो गया है। गोयल के निधन के बाद कांग्रेस में शोक की लहर दौड़ गई।कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ( Congress President Sonia Gandhi ) और नेता प्रियंका गांधी वाड्रा (Priyanka Gandhi Vadra) ने गोयल के निधन पर शोक व्यक्त किया है।कांग्रेस के प्रवक्ता राजीव त्यागी (Congress spokesperson Rajiv Tyagi) के निधन के बाद अब कांग्रेस के कद्दावर नेता के निधन से जनपदवासी बेहद दुखी हैं।

स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक, 20 जुलाई 2020 को पूर्व सांसद की कोरोना जांच कराई गई तो संक्रमण की पुष्टि हुई थी। उनका शुरू में होम-आइसोलेशन में ही उपचार किया गया। हालत बिगड़ने पर 2 अगस्त को उन्हें दिल्ली के गंगाराम अस्पताल में भर्ती कराया गया था। 75 वर्षीय सुरेंद्र प्रकाश गोयल का शुक्रवार सुबह निधन हो गया है। राजीव त्यागी के निधन के बाद कांग्रेस को यह दूसरा बड़ा नुकसान है।

सोनिया गांधी ने एक संदेश में कहा , “पूर्व सांसद सुरेंद्र गोयल ( SP Goyal ) के दुखद निधन के बारे में जानकर गहरा दुख हुआ। उनकी सेवा और प्रतिबद्धता की भावना हमेशा याद रहेगी। उनके परिवार के सदस्यों, समर्थकों और शुभचिंतकों के प्रति मेरी हार्दिक संवेदना।”

प्रियंका गांधी वाड्रा ( Priyanka Gandhi Vadra ) ने गोयल को याद करते हुए फेसबुक पर कहा कि उनकी मौत से कांग्रेस पार्टी को अपूरणीय क्षति हुई है। कांग्रेस महासचिव ने हिंदी में फेसबुक पर पोस्ट किया, “सुरेंद्र प्रकाश गोयल के निधन की खबर मिली। वह कांग्रेस के एक मजबूत और समर्पित नेता थे और एक प्रसिद्ध जन प्रतिनिधि थे। उनके निधन से कांग्रेस को अपूरणीय क्षति हुई है। भगवान उनके परिवार को इस दुख की घड़ी में इस दुख को सहन करने की शक्ति दे।”

सुरेंद्र प्रकाश गोयल का राजनीतिक सफर-
जन्म 1 जनवरी 1946, जन्म स्थान बेतपुरा जिला गौतमबुद्ध नगर व कर्मभूमि सराय नगर अली जिला गाजियाबाद।
1989- सभासद सराय नगर अली।
1989- सभासदों द्वारा चेयरमैन चुने गए।
1995- मेयर का चुनाव लड़े व हार गए।
2000- मेयर का चुनाव कांग्रेस पार्टी से लड़े हार गए।
2002- कांग्रेस पार्टी से गाजियाबाद विधानसभा चुनाव जीते।
2004- कांग्रेस पार्टी से गाजियाबाद के सांसद बने।
2009- राजनाथ सिंह जी से सांसद का चुनाव हारे।
2012- सुरेश बंसल जी से गाजियाबाद विधानसभा चुनाव हारे।
2017- अजीत पाल त्यागी जी से मुरादनगर विधानसभा चुनाव हारे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here