Crime News: मंडला खूनी संघर्ष पर एक्शन, चौकी प्रभारी समेत पूरा स्टाफ सस्पेंड

भोपाल/मंडला।

दो दिन पहले मध्यप्रदेश के मंडला जिले में हुए खूनी संघर्ष मामले में बड़ी कार्रवाई हुई है। एसपी दीपक शुक्ला ने मनेरी पुलिस चौकी प्रभारी समेत पूरे स्टाफ को सस्पेंड किया गया है।नए प्रभारी सहित नए स्टाफ को अब पोस्टेड किया जाएगा। कोतवाली में पदस्थ राजेन्द्र पवार अब चौकी प्रभारी होंगे।

मंडला पुलिस अधीक्षक दीपक शुक्ला ने शुक्रवार को बताया कि लापरवाही बरतने पर मनेरी पुलिस चौकी के प्रभारी और मौके पर तैनात तीन पुलिस जवानों को निलंबित किया गया है। कुल मिलाकर चार लोग सस्पेंड किए गए हैं। घटना के दिन चौकी में प्रभारी के अलावा चार जवान ही तैनात थे।

दरअसल, बुधवार को बीजाडांडी थाना के ग्राम मनेरी में दो परिवारों के बीच जमकर खूनी संघर्ष हुआ था, जिसमे भाजपा नेता समेत 7 लोगों की मौत हो गई थी और कई घायल हो गए थे।औद्योगिक इलाका मनेरी गांव में बुधवार दिनदहाड़े हुए सामूहिक नरसंहार में आरोपी हरि सोनी और संतोष सोनी ने बीजेपी नेता रज्जन सोनी सहित उनके भाई विनोद सोनी, ओम सोनी (10 साल), प्रिया सोनी (28 साल), श्रेयांस सोनी (7 साल), दिनेश सोनी सहित 7 लोगों की नृशंस हत्या कर दी गई थी। आरोपियों ने एक ही परिवार के सात लोगों की तलवार से बारी बारी से हत्या कर दी, वही राह चलते दो ग्रामीणों को घायल भी कर दिया। हमले में तीन लोग घायल भी हुए थे। घटना के बाद मौके पर पुलिस बल के पहुंचने पर आक्रोशित ग्रामीणों ने आरोपियों पर हमला कर दिया था। ये मामला एक जमीन के विवाद को लेकर था, जिसमें दोनों परिवारों के बीच तनाव चल रहा था। मृतक रज्जन सोनी भाजपा के रसूखदार नेता रहे हैं। दोनों आरोपी बुधवार दोपहर एक साथ धारदार हथियार तलवार लेकर मृतक के घर और दूकान पहुंचे और बारी बारी से सबपर हमला कर दिया। इस बीच जो भी बीच में आया वो उसपर भी हमला करते रहे। इस घटना के बाद गांव में दहशत फैल गई थी।जिसके बाद एसपी ने यह कार्रवाई की है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here