ऩए साल के पहले दिन बाबा महाकाल के दर्शन करने उमड़ी भक्तों की भीड़, 45 हजार लोगों ने किए दर्शन

नए साल के दिन महाकालेश्वर मंदिर कि आय 12 लाख रुपए रही।

ujjain

उज्जैन,डेस्क रिपोर्ट। 12 ज्योतिर्लिंगों में से एक उज्जैन की महाकालेश्वर ज्योतिर्लिंग (Mahakaleshwar Jyotirlinga of Ujjain) में आज नए साल के दिन सुबह 6:00 बजे से लेकर शाम के 6:00 बजे तक करीब 45 हजार श्रद्धालुओं (Devotees) ने बाबा महाकाल के दर्शन किए। वहीं नए साल के दिन महाकालेश्वर मंदिर (Mahakaleshwar Temple) कि आय 12 लाख रुपए रही।

नए साल के दिन बाबा महाकाल (Baba Mahakal) के दर्शन कर उनका आशीर्वाद (blessings) लेने वाले 45,000 श्रद्धालुओं में कुछ नामी-गिनामी लोग भी मौजूद थे। बाबा महाकाल के आज दर्शन मध्य प्रदेश सरकार के मंत्री बिसाहूलाल सिंह (Minister Bisahulal Singh), चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग (Medical Education Minister Vishwas Sarang), उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव राजेंद्र तिवारी और फिल्म अभिनेता गोविंद नामदेव द्वारा किए गए।

मंदिर के दर्शन करने पहुंचे बॉलीवुड एक्टर गोविंद नामदेव (Bollywood actor Govind Namdev) ने कहा कि उन्होंने बाबा महाकाल (Baba Mahakal) से वैश्विक महामारी कोरोना वायरस (Global pandemic corona virus) से मुक्ति दिलाने और उनकी आने वाली मूवी भूल भुलैया टू के हिट होने की प्रार्थना की है। बता दें कि बॉलीवुड एक्टर गोविंद नामदेव अपने परिवार के साथ बाबा महाकाल के दर्शन करने पहुंचे थे।

वही मंदिर में आए चढ़ावे को लेकर महाकालेश्वर मंदिर के सहायक प्रशासक मूलचंद जूनवाल का कहना है कि बीते दिन यानी 31 दिसंबर को मंदिर की कमाई करीब 2 से ढाई लाख रुपए ही थी, जो कि नए साल के पहले दिन 5 से 6 गुना बढ़कर 12 लाख दर्ज की गई।

बता दें कि नववर्ष (New year) को देखते हुए 30 से 2 जनवरी तक के लिए बाबा महाकाल (Baba Mahakal) के दर्शन के लिए एक घंटा बढ़ाया गया था। वही नंदी गृह से महाकाल के दर्शन को पूरी तरह से प्रतिबंधित किया गया है। नए साल को देखते हुए श्रद्धालुओं की संख्या को भी 12000 से बढ़ाकर 28000 कर दिया गया है। दरअसल नए साल में आने वाले दर्शनार्थियों में सिर्फ देश के ही नहीं विदेश के भी श्रद्धालु भी शामिल होते हैं, जिसके मद्देनजर नियमों में यह बदलाव किया गया है।

वहीं साल के आखिरी दिन यानी कि गुरुवार को महाकालेश्वर मंदिर के आगन में सुबह 10:00 बजे म्यूजिकल ग्रुप द्वारा शिव आराधना की प्रस्तुति दी गई, जिसने श्रद्धालुओं को मंत्रमुग्ध कर दिया। वही ग्रुप के संयोजक दीपक मेहता का कहना है कि ये बाबा महाकाल का ही आशीर्वाद है जो साल के आखिरी दिन उन्हें शिव आराधना की प्रस्तुति करने का मौका मिला है। भजन मंडली द्वारा कोरोनावायरस से भी छुटकारा दिलाने की कामना की गई।