मास्क ना पहनने वालों का कटा चालान, पुलिस ने वसूले 33 लाख रूपए

जबलपुर।संदीप कुमार

कोरोना वायरस काल के ढाई माह के दौरान पुलिस ने नगर निगम के साथ मिलकर मास्क न पहनने वालो और ट्रैफिक नियमों का पालन न करने वालो के खिलाफ कार्यवाही करते हुए लाखो रु का चालान वसूला है।हालांकि पुलिस की इस कार्यवाही से वो लोग भी परेशान हो रहे है। जिन पर पुलिस की जबरन कार्यवाही हो रही है। इसको लेकर भाजपा ने अपनी आपत्ति जाहिर की है।

कोरोना वायरस के दौरान पुलिस की ताबड़तोड़ कार्यवाही

जबलपुर की ट्रैफिक पुलिस ने जिला पुलिस और नगर निगम के साथ मिकलर ऐसे लोगो पर कार्यवाही की है जो कि बिना मास्क पहनकर घूम रहे है इतना ही नही पुलिस ने उन लोगो पर भी कार्यवाही की है जो कि सोशल डिस्टेन्स की धाज्जिया उड़ा रहे थे।

33 हजार से ज्यादा लोगो के पुलिस ने काटे चालान

लॉक डाउन रहने और लॉक डाउन खुलने के बाद से पुलिस ने कोविड-19 के नियमो का उल्लंघन करने वालो के खिलाफ लगातार कार्यवाही की है।जबलपुर जिले के थानों की पुलिस ने मास्क न पहनने और सोशल डिस्टेन्स न बनने पर कार्यवाही की है।थाना पुलिस ने 33072 व्यक्तियों के चालान काटते हुए उनसे 33 लाख 43 हजार रु वसूल किये है वही ट्रैफिक पुलिस ने भी 2547 लोगो के खिलाफ कार्यवाही कर उनसे 254700 रु वसूल किये है।

धारा 188 का उल्लंघन करने वालो पर भी हुई है कार्यवाही

लॉक डाउन के दौरान जबलपुर पुलिस ने धारा 188 का उल्लंघन करने वालों पर भी कार्यवाही की है जबलपुर पुलिस ने 2160 प्रकरण दर्ज कर 2869 लोगों पर कार्यवाही की है इस कार्यवाही के दौरान भी पुलिस ने अच्छा खासा शुल्क वसूल किया है

पुलिस की इस कार्रवाई का भाजपा ने किया विरोध लॉकडाउन के बाद पूरे शहर के अर्थव्यवस्था के मामले में हालात खराब है बावजूद इसके पुलिस का मनमानी तरीके से कार्यवाही करना भारतीय जनता पार्टी को कहीं से भी रास नहीं आ रहा है जो कि वर्तमान में मध्यप्रदेश के अंदर भाजपा की सरकार है ऐसे में भाजपा ने पुलिस की कार्यवाही को जायज नहीं बताया है भाजपा की माने तो पुलिस कार्यवाही करें यह अच्छी बात है पर अगर नाहक ही लोगों को पुलिस नाहक ही परेशान करती है तो इसका हम कड़ा विरोध करेंगे

करीब ढाई माह के लगे लॉकडाउन के बाद भले ही जबलपुर शहर खुल गया हो पर सड़क पर उतरते ही शहर के हर चौराहे पर पुलिस का चलानी कार्यवाही करना लोगों को रास नहीं आ रहा है। एक तो पहले से ही रोजगार की समस्या और उसके बाद पुलिस का जबरन कार्यवाही का तरीका कहीं ना कहीं पुलिस के खिलाफ जा रहा है।यही वजह है कि अब भाजपा ने भी पुलिस के इस कार्रवाई का विरोध करना शुरू कर दिया है।