सावधान! खूबसूरती का जाल बिछाकर बनाती हैं शिकार, वीडियो कॉलिंग पर अश्लीलता परोस करती हैं ब्लैकमेल

सायबर अपराध का एक नया पैटर्न अपराधियो ने इजात किया है,आरोपियों ने वीडियो कॉलिंग के माध्यम से अब ब्लैकमेलिंग करना शुरू कर दिया है।

जबलपुर, संदीप कुमार| सायबर क्राइम (Cyber Crime) से निपटने के लिए साइबर पुलिस (Cyber Police) की टीम जितना तेजी से काम कर रही है तो सायबर क्राइम से जुड़े अपराधी हमेशा पुलिस से आगे निकलते हुए एक कदम आगे रहते है। हाल ही में सायबर अपराध का एक नया पैटर्न अपराधियो ने इजात किया है,आरोपियों ने वीडियो कॉलिंग के माध्यम से अब ब्लैकमेलिंग करना शुरू कर दिया है।

वीडियो कॉल में अश्लीलता परोस कर महिलाएं कर रही है ब्लैकमेलिंग
ऑनलाइन ठगी-विवाह के नाम पर ठगी, मोबाइल से ठगी के किस्से आम होने के बाद अब सायबर से जुड़े अपराधियों ने ब्लैकमेलिंग करने के लिए नया तरीका तलाश कर लिया है,आरोपी वीडियो काल का इस्तेमाल अब सामने वाले को ठगने के लिए कर रहे है खास बात ये है कि ठगी के इस धन्धे में महिलाएं शामिल है जो कि वीडियो कॉल कर सामने वालो को अश्लीलता परोसती है और फिर तत्काल ही मोबाइल से वीडियो कॉल का स्क्रीनशॉट लेकर उसे ब्लैकमेल करती है,कई बार ये भी हुआ है कि लोग डर कर ब्लैकमेल करने वालों की डिमांड पूरी करना शुरू कर देते है।

मध्यप्रदेश के प्रशासनिक अधिकारी भी बन चुके है निशाना
स्टेट सायबर सेल के एसपी अंकित शुक्ला बताते है कि हाल ही में मध्यप्रदेश के एक प्रशासनिक अधिकारी इस तरह की वीडियो काल मे ब्लैकमेल का शिकार हुए है,एसपी अंकित शुक्ला के मुताबिक प्रशासनिक अधिकारी अपने घर पर था तभी अनजान नंबर से उनके पास वीडियो कॉल आता है और वह जब वीडियो काल रिसीव करते है तभी सामने मोबाइल में देखते है कि एक लड़की अश्लील हालात में बैठी हुई है,फरियादी जब तक अपना वीडियो काल बन्द करते,मोबाईल के कैमरे में हाथ रखते तब तक लड़की ने मोबाइल से स्क्रीनशॉट वीडियो बना लिया था और उस विडियो को फरियादी के पास भेज कर वायरल करने की धमकी देते है ऐसे में फरियादी चिंता में आकर सायबर पुलिस की मदद के लिए आते है।

ऐसा होने पर क्या करे
सायबर पुलिस के मुताबिक जब कभी भी इस तरह की हरकत अगर होती है तो सबसे पहले व्यक्ति को अपना व्हाट्सएप-फेसबुक एकॉउंट बन्द कर पुलिस की मदद लेना चाहिए,साथ ही ऐसे व्यक्ति जिनका की लिस्ट में नाम नही है और बेनाम होते है तो उनका वीडियो काल नही उठाना चाहिए,बेहतर है कि विडियो काल काटकर उसे नॉर्मल फोन कर उससे प्रयोजन पूछे,वही एसपी अंकित शुक्ला ने आमजन से अपील की है कि अगर कोई अश्लील वीडियो य फ़ोटो दिखाकर ब्लैकमेल कर रहा है तो उसके झांसा में न आए|

बन्द कर दे सोशल मीडिया का अपना खाता
स्टेट सायबर सेल एसपी अंकित शुक्ला ने बताया कि इस तरह से कभी अगर कोई हरकत करता है तो सबसे पहले फरियादी को अपना फेसबुक-व्हाट्सएप-मेसेंजर खाता बन्द करना चाहिए,कोशिश करे की वह कुछ दिन अपने मोबाइल का उपयोग न करे।

दिल्ली-नोयडा से ब्लैकमेल करने वालो का गिरोह हो रहा है संचालित
एसपी अंकित शुक्ला ने जांच में पाया कि वीडियो कॉल कर अश्लीलता परोस कर ब्लैकमेल करने वाला गिरोह दिल्ली-नोयडा और एनसीआर से संचालित हो रहा है जिसकी स्टेट सायबर पुलिस जाँच कर रही है।