Damoh: ऑक्सीजन प्लांट लगने से पहले ही सप्लाई पाइपलाइन चोरी, संदिग्ध सीसीटीवी में कैद

वहीं लाखों की इस पाइपलाइन चोरी के बाद एक बार फिर मरीजों के सामने ऑक्सीजन की कमी आने की संभावना जताई जा रही है। हालांकि इस वारदात का एक संदिग्ध सीसीटीवी में कैद हुआ है।

damoh oxygen

दमोह, आशीष कुमार जैन। दमोह (damoh) के सबसे बड़े सरकारी अस्पताल (government hospital) में लग रहे ऑक्सीजन प्लांट (oxygen plant) की सर्विस पाइपलाइन (service pipeline) किसी ने चोरी कर ली। इस मामले में एक संदिग्ध हॉस्पिटल में लगे सीसीटीवी (cctv) में कैद हुआ है। कोरोना की तीसरी लहार की आहट के बीच जहां सरकारें तैयारियां कर रही है वहीं एम पी के दमोह से एक चिंता में डालने वाली खबर है, जहां ऑक्सीजन प्लांट की सप्लाई पाइप लाइन पर चोरों ने हाथ साफ कर लिया है। वहीं लाखों की इस पाइपलाइन चोरी के बाद एक बार फिर मरीजों के सामने ऑक्सीजन की कमी आने की संभावना जताई जा रही है। हालांकि इस वारदात का एक संदिग्ध सीसीटीवी में कैद हुआ है।

damoh

यह भी पढे़ं… एंबुलेंस में गूंजी किलकारी, महिला ने एंबुलेंस में दिया बच्ची को जन्म

दमोह के जिला अस्पताल में सरकार दो ऑक्सीजन प्लांट लगाने जा रही है जिसको लेकर पूरे अस्पताल में पाइपलाइन डाली जा रही है जिसके जरिये मरीजों को ऑक्सीजन मुहैया हो पाती लेकिन चोरों को शायद इंसान की जान की कीमत का अंदाजा नहीं है और चोर यहां की पाइप लाइन पर हाथ साफ कर गए। लाखों रूपये कीमत की इस सर्विस सप्लाई लाइन के चोरी होने के बाद हड़कंप मचा हुआ है। लोग आने वाले कल को लेकर भी खासे चिंतित हुए हैं।

यह भी पढे़ं… सीएम शिवराज आज बुधनी में करेंगे कोविड केयर सेंटर का शुभारंभ

अस्पताल की सिविल सर्जन का कहना है की ये ऑक्सीजन प्लांट इस महीने के शुरुआती दौर में शुरू होना था लेकिन प्लांट की मशीने नहीं आई और लेटलतीफी होती रही। यहां काम कर रहे इंजीनियर्स ने वक़्त बचाते हुए सर्विस लाइन डालने का काम लगभग पूरा कर लिया था लेकिन महंगे कॉपर की ये लाइन चोर चुरा ले गए। अस्पताल में लगे सीसीटीवी कैमरों में एक संदिग्ध कैद हुआ है, जिसका वीडियो अस्पताल प्रबंधन ने पुलिस को सौंपा है और पुलिस इस पूरे मामले की जांच  कर रही है।
बाइट- डॉ ममता तिमोरी ( सिविल सर्जन जिला अस्पताल दमोह )

बाइट- सत्येंद्र सिंह राजपूत ( थाना प्रभारी कोतवाली दमोह )