suicide

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश की राजधानी में एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है। जहां माता-पिता से अलग रह रहे एक 19 साल के लड़के ने फांसी लगाकर खुदकुशी(Suicide) कर ली है। हालांकि मौके से कोई सुसाइड नोट बरामद नहीं हुआ है लेकिन पुलिस प्रारंभिक जांच में प्रेम प्रसंग का मामला मानकर जांच कर रही है।

दरअसल मामला सोमवार रात की बताई जा रही है। जब दिन भर बात नहीं होने के कारण लड़के के चाचा सोमवार पुलिस को लेकर घर पहुंचे तो मामले का खुलासा हुआ। घटना की जानकारी लड़के की चाचा राजीव पवार ने पुलिस को दी। 45 वर्षीय राजीव पवार प्राइवेट जॉब करते हैं। उन्होंने बताया कि उनके बड़े भाई मुन्नालाल पंवार का 19 साल का छोटा बेटा अशोका गार्डन कैलाश नगर के 81 फ़ेज वन में किराए के मकान पर रहता है।

सोमवार रात एक परिचित ने फोन करके बताया कि सुबह से ही राजकुमार पवार के कमरे का दरवाजा नहीं खुला है। अंदर से कोई आवाज भी नहीं आ रही है। जिसके बाद चाचा राजेश मौके पर पहुंचे और खिड़की से झांक के अंदर देखा तो 19 वर्षीय राजकुमार फांसी पर लटका हुआ दिखाई दिया। इस घटना के बाद राजीव ने अपने बड़े भाई के साथ ही पुलिस को घटना की जानकारी दी।

Read More: मर गयी संवेदना, जिला अस्पताल में बड़ी लापरवाही, प्रसूता ने गेट पर ही दिया बच्चे को जन्म

वहीं पुलिस के मुताबिक घटनास्थल के बाद से कोई सुसाइड नोट(suicide note) बरामद नहीं किया गया है। पुलिस ने बताया कि 19 वर्षीय राजकुमार अपने मां-पिता से अलग रह रहा था। डेढ़ महीने पहले वह अपने को छोड़कर किसी अन्य स्थान पर किराए के मकान में रह रहा था जबकि वहां से वह अशोका गार्डन दो-चार दिन पहले ही पहुंचा था।

पुलिस ने बताया कि सुसाइड नोट नहीं मिलने के कारण आत्महत्या की असली कारण का खुलासा नहीं हो पाया है लेकिन माना जा रहा है कि राजकुमार ने सुसाइड की योजना बनाकर ही माता-पिता से अलग रहने का निर्णय किया था। वहीं पुलिस ने शव बरामद कर उसे पोस्टमार्टम के लिए हमीदिया अस्पताल भिजवा दिया है।