digvijay singh

जबलपुर, संदीप कुमार। कृषि कानून बिल (farm law) के खिलाफ देश की राजधानी में बीते ढाई माह से चल रहे केंद्र सरकार (central government) और किसानों (farmers) के बीच आंदोलन पर अब मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह (digvijay singh) का भी बयान सामने आया है। जबलपुर प्रवास के दौरान पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी(narendra modi) पर पर निशाना साधते हुए कहा है कि इतना सब होने के बाद अब प्रधानमंत्री को अहम और अहंकार छोड़ देना चाहिए।

उन्होने कहा कि आंदोलन कर रहे किसान किसी भी कीमत में पीछे हटने वाले नही है। पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने जबलपुर में बड़ा ऐलान करते हुए कहा की अगर कृषि क़ानून बिल पर प्रधानमंत्री नही माने। तो मध्य प्रदेश से दिल्ली के लिए करीब 50 हजार किसान कूच करेंगे। जिसकी तैयारियां भी शुरू कर दी गई है।

पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह जबलपुर प्रवास के दौरान प्रेम नगर गुरुद्वारा में आयोजित कार्यक्रम में भी शामिल हुए। इसके बाद वह झोतेश्वर के लिए रवाना हो गए। झोतेश्वर में दिग्विजय सिंह जगतगुरु स्वामी स्वरूपानंद जी के दीक्षा समारोह में शामिल होंगे।

शिवराज सिंह के दलित के घर खाना खाने पर भी बोले दिग्विजय 

पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने शिवराज सिंह के दलित के घर खाना खाने पर भी अपना बयान दिया है। उंन्होने कहा है कि दलित के घर जाकर नाश्ता कर लो। खाना खा लो। इससे बात नही बनती है। शिवराज सरकार को चाहिए कि वह दलितों पर हो रहे अत्याचार को रोकें। साथ ही उंन्होने कहा कि अगर दलितो से इतना प्यार है तो फिर क्यों कांग्रेस सरकार में बंटे 70 %पट्टे शिवराज सरकार ने किए कैंसिल किए है।