सिंधिया-पायलट पर बोले दिग्विजय- इन नौजवानों को सब्र नहीं

अशोकनगर|हितेंद्र बुधौलिया

कांग्रेस की सरकार(Congress Government) गिरने के बाद ज्योतिरादित्य सिंधिया(Jyotiraditya Scindia) के प्रभाव के अशोकनगर जिले में पहुँचे पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह(Former Chief Minister Digvijay Singh) ने राजस्थान में सचिन पायलट(Sachin Pilot in Rajasthan) के मुद्दे पर सचिन सहित सिंधिया(Scindia including Sachin) को भी लपेटते हुये कहा कि इन नौजवानों को सब्र ही नही है,दिग्विजय सिंह ने सचिन एवं सिंधिया के पिताओ के काम याद करते हुऐ इन दोनों युवाओ को कोंग्रेस के द्वारा दी गई तवज्जों के बारे में बताया।साथ ही उन्होंने कहा कि कितने लोगों को इतनी कम उम्र में इतना कुछ मिल पाता है मगर इन दोनों युवाओ नेताओ को सब्र ही नही है।साथ ही उन्होंने कॉंग्रेस छोड़ कर भाजपा में आये पूर्व विधायको के आरोप कि कोंग्रेस में उनके काम नही होते पर कहा कि उनके पास पूरी सूची है इनके कितने काम हुये है।

पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह कॉग्रेस सरकार गिरने के बाद पहली बार अशोकनगर कुछ व्यक्तिगत लोगों से मुलाकात के कार्यक्रम के साथ साथ कांग्रेस कार्यकर्ताओं में जोश भरने के लिए यहां पहुंचे।इस दौरान देर रात तक उनके इंतजार में खड़े लोगों ने जमकर उनका स्वागत किया।

सिंधिया रहे टारगेट पर

पत्रकारों से बातचीत करते हुए दिग्विजय सिंह ने राजस्थान के मुद्दे पर पूछे गए सवाल को लेकर कहा कि सचिन पायलट के साथ साथ ज्योतिरादित्य सिंधिया को लपेट लिया ।उन्होंने कहा कि ये युवा नेता भूल जाते हैं कि उन्हें इतनी कम उम्र में कांग्रेस पार्टी ने क्या-क्या दिया है ।उन्होंने कहा कि अफसोस के साथ कहना पड़ता है इन दोनों के पिताओ एवं इनसे बहुत अच्छे संबन्ध रहे है मगर इन दोनों नौजवानों को सब्र नहीं। दिग्विजय सिंह ने राजेश पायलट एवं माधवराव सिंधिया की तारीफ करते हुए कहा कि उन्होंने कांग्रेस पार्टी के लिए बहुत कुछ किया है और उन्हीं के कामों को ध्यान में रखते हुए ज्योतिरादित्य सिंधिया को सांसद बनाया, केंद्र में मंत्री बनाया, ऑल इंडिया कांग्रेस कमेटी का महामंत्री एवं मध्य प्रदेश कैंपेन कमेटी का हेड बनाया साथ ही उन्हें डिप्टी सीएम एवं प्रदेश अध्यक्ष का पद भी ऑफर किया जो उन्होंने स्वीकार नहीं किया।

दिग्विजय सिंह ने आगे ज्योतिरादित्य सिंधिया पर कटाक्ष करते हुए कहा कि उन्होंने उस पार्टी के साथ जाना उचित समझा जिसने चुनाव में उन को हराया था ,और उस पार्टी का साथ छोड़ा जिस कांग्रेस ने उन्हें सब कुछ दिया । इसी तरह सचिन पायलट को लेकर भी उन्होंने कहा कि सचिन को बहुत छोटी उम्र में सांसद एवं केंद्रीय मंत्री बनाया और 36- 37 साल की उम्र में उप मुख्यमंत्री और प्रदेश अध्यक्ष बना दिया मगर इन दोनों ही नेताओं को सब्र नहीं है ।दिग्विजय सिंह ने इन दोनों नेताओं को याद दिलाते हुए कहा कि पहले कांग्रेस के नेताओं ने लंबी लड़ाई लड़ी है। तब जाकर 60- 65 साल की उम्र में उन्होंने नेताओं को कुछ मिल पाया थ।

उन्होंने कहा कि कोंग्रेस में कितने लोग हैं जिनको इतनी कम उम्र में पार्टी में इतना सब कुछ मिला। जो कह रहे है काम नही होते थे उनके कामो की सूची है कांग्रेस छोड़कर भाजपा में आए पूर्व विधायकों के उस आरोप का भी दिग्विजय सिंह ने जवाब दिया जिसमें उन्होंने कहा था कि कांग्रेस पार्टी में उनके काम नहीं होते थे इस पर दिग्विजय सिंह का कहना है कि सभी विधायकों के कामों की सूचियां बनी रखी है। साथ ही उन्होंने सिंधिया समर्थक अशोकनगर के पूर्व विधायक जजपाल सिंह जज्जी पर काम ना होने के आरोपो पर इशारो ही इशारो में सिर्फ इतना कहा कि उनके प्रमाण पत्र पर तलवार लटकी थी। कुछ दिन पहले बिना कलेक्टर के चल रहे अशोकनगर को लेकर उनके ट्वीट पर किये सवाल पर कहा कि अशोकनगर जिला भगवान भरोसे चल रहा है।