दिग्विजय सिंह ने लिखा मुख्यमंत्री शिवराज को पत्र, कही यह बड़ी बात

कर्ज के भंवर में फंसे किसान की कर्ज माफी भी आपने रोक दी है। अभी 1 सप्ताह में ही 12 किसान आत्महत्या कर चुके हैं।

दिग्विजय सिंह

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह (Former Chief Minister Digvijay Singh) ने किसानों को यूरिया (Urja), डीएपी (DAP) खाद उपलब्ध कराने और कालाबाजारी रोकने के लिए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Chief Minister Shivraj Singh Chauhan) को पत्र लिखा है।

पत्र में दिग्विजय सिंह ने कहा है कि प्रदेश में रबी की फसल लगाने वाले किसान इस समय यूरिया, डीएपी खाद की किल्लत और जमकर कालाबाजारी (Black Marketing) से लूट रहे हैं। वहीं राज्य सरकार (Sate Government) पर्याप्त यूरिया उपलब्ध नहीं करा पा रही है। इस वर्ष प्रदेश का किसान खरीफ की फसल में अतिवृष्टि से हुए नुकसान से उभरा नहीं था कि रवि की फसल को बचाने के प्रयास में कालाबाजारी का शिकार बन गया है।

Read More: कमलनाथ और दिग्विजय सिंह पर जमकर गरजे ज्योतिरादित्य सिंधिया, कहा- कमल की गद्दार सरकार थी

दिग्विजय सिंह ने कहा कि, आप प्रदेश के 1 करोड़ से अधिक लघु और सीमांत किसानों को पर्याप्त यूरिया और डीएपी उपलब्ध कराने की जगह उपचुनाव की चिंता में एक से दूसरे जिले में चुनावी सभाओं में मशगूल है। आप स्वयं को किसान पुत्र और किसान हितैषी कहते हैं, पर यूरिया की किल्लत और कालाबाजारी आपको नजर नहीं आ रही है।

Read More: मध्य प्रदेश के कर्मचारियों के लिए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह की बड़ी घोषणा

इस वर्ष लाखों किसानों का सोयाबीन चौपट हो गया पर सरकार ने एक रुपए का भी मुआवजा और बीमा किसानों को नहीं दिया। कर्ज के भंवर में फंसे किसान की कर्ज माफी भी आपने रोक दी है। अभी 1 सप्ताह में ही 12 किसान आत्महत्या कर चुके हैं। दिग्विजय सिंह ने कहा कि एक तरफ यूरिया और डीएपी के लिए किसान भटक रहे हैं, वही सुपर फास्ट में मिलावट की शिकायत आ रही है। यूरिया व डीएपी खुले बाजार में मनमाने दाम पर बेचे जा रहे हैं। किसान का आरोप है कि पूरे प्रदेश में ऐसी कालाबाजारी प्रशासन का खुला संरक्षण है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here