मध्य प्रदेश : महिला अभिभाषक के साथ विवाद, पुलिस और अभिभाषक आमने सामने

डबरा के सूर्य नगर बल्ला का डेरा क्षेत्र में रहने वाली अभिभाषक ज्योति शर्मा के साथ आज उस समय मारपीट कर दी गई जब वह घर पर बैठी हुई थी। महिला अभिभाषक का आरोप है कि उसके दामाद ने अपने तीन साथियों के साथ ना सिर्फ सिर्फ उसकी लाठियों से मारपीट की बल्कि उसकी बहू के साथ गंदी नियत से छेड़छाड़ की और तो और दुकान पर नौकरी करने वाले कर्मचारी की भी जमकर मारपीट करते हुए उसे जातिसूचक गालियां दी।

डबरा, सलिल श्रीवास्तव। डबरा में एक महिला अभिभाषक के साथ मारपीट का मामला प्रकाश में आया है। मारपीट का आरोप किसी और पर नहीं महिला के दामाद उसके तीन साथियों पर है। घटना के विरोध में थाने में अभिभाषकों का जमावाड़ा है वहीं पुलिस मामले की जांच करने की बात कर रही है तो अभिभाषक कई धाराओं के तहत मामला दर्ज करने की मांग पर अड़े हुए हैं।

ये भी पढ़े … 2 जून को हो सकती है स्थानीय निकाय चुनावों की घोषणा

आपको बता दें कि डबरा के सूर्य नगर बल्ला का डेरा क्षेत्र में रहने वाली अभिभाषक ज्योति शर्मा के साथ आज उस समय मारपीट कर दी गई जब वह घर पर बैठी हुई थी। महिला अभिभाषक का आरोप है कि उसके दामाद ने अपने तीन साथियों के साथ ना सिर्फ सिर्फ उसकी लाठियों से मारपीट की बल्कि उसकी बहू के साथ गंदी नियत से छेड़छाड़ की और तो और दुकान पर नौकरी करने वाले कर्मचारी की भी जमकर मारपीट करते हुए उसे जातिसूचक गालियां दी।

ये भी पढ़े … कर्मचारियों के लिए काम की खबर, वेतनमान,भत्ते और GPF पर अपडेट, पदनाम परिवर्तन की भी मांग

घटना की जानकारी लगते ही डबरा के अभिभाषक संघ के अध्यक्ष अनिल परसोलवाल के साथ थाने पहुंच गए और मामले की गंभीरता को देखते हुए एसडीओपी विवेक शर्मा भी तत्काल थाने पहुंच गए। पुलिस का तर्क था कि मामला घरेलू है इस कारण मारपीट की धाराओं के तहत मामला दर्ज किया जाए तो वहीं महिला अभिभाषक का कहना है कि जो घटना हुई है उसकी धाराओं में रिपोर्ट दर्ज की जाए तब तक वह थाने से नहीं जाएंगी। फिलहाल मामले को लेकर अभिभाषक और पुलिस आमने-सामने हैं देखना यह है कि पुलिस झुकती है या फिर अभिभाषक अपनी बात मनवा कर ही थाने से लौटते हैं।