जिला अस्पताल की बड़ी लापरवाही, मासूम को लेकर भटकता रहा पिता, नहीं मिले डॉक्टर

राजगढ़।

मध्यप्रदेश के राजगढ़ जिला अस्पताल में ड्रिप (बॉटल) लगी बच्चे को गोद लेकर एक महिला चल रही है। वही ड्रिप (बॉटल)को पकड़ कर एक ब्यक्ति बच्चे के इलाज के लिए जिला अस्पताल में डॉक्टर को ढूंढने के लिए भटक रहा है की शायद उनके बच्चे को डॉक्टर देख ले।

राजगढ़ जिला अस्पताल की व्यवस्था नहीं पा रही सुधर 

जिले के ब्यावरा अस्पताल से निमोनिया की शिकायत के बाद अपने डेढ़ माह के बच्चे के इलाज को लेकर जिला अस्पताल राजगढ़ आया पिता गिरते पानी में डॉक्टरों की तलाश करता रहा। लेकिन आधा घंटे बाद भी उसे डॉ नहीं मिले। ऐसे में बारिश के बीच ही बीमार बच्चे के परिजन ड्रिप लगे बच्चे को हाथ मे लेकर जिला अस्पताल में इधर उधर भटकते रहे। जिला चिकित्सालय में जब पिता बालू सिसोदिया बच्चे को लेकर पहुंचा तो बच्चे के हाथ में ड्रिप लगी हुई थी। और बारिश हो रही थी। पहले वह बच्चे को लेकर ओपीडी पहुंचा। उसके बाद बच्चा वार्ड लेकिन जब डॉक्टर नहीं मिला तो वापस ओपीडी में आया लेकिन कहा कि चिकित्सक नहीं मिले।

निमोनिया की शिकायत होने के बाद उसे ब्यावरा से राजगढ़ रेफर किया था। उस दौरान बच्चे के हाथ में ट्रिप भी लगी हुई थी। इस बीच बारिश में यहां से वहां ले जाते हुए परिजन बच्चे के यह इलाज की उम्मीद से उसे लेकर जिला अस्पताल राजगढ़ आए थे।