Dragon Attack: पीएम मोदी, सीएम शिवराज सहित इन हस्तियों की जासूसी कर रहा चीन, क्या है वजह

नई दिल्ली/ भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। भारत(India) के लाख चेतावनी देने के बाद भी चीन(China) अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहा है। चीन की तरफ से लगातार भारत में जासूसी की खबर सामने आ रही है। इसी मुद्दे पर बड़ा खुलासा हुआ है। जिसमें चीनी द्वारा ना सिर्फ भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी(Prime Minister Narendra Modi) बल्कि पूर्व के पांच प्रधानमंत्री सहित देश के मुख्यमंत्री(Chiefminister) और सांसद(MP) की जासूसी रहा है। बड़ी खबर यह है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी(Congress President Sonia Gandhi), पूर्व मुख्यमंत्री मनमोहन सिंह(Former Chief Minister Manmohan Singh) के अलावा मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान(Madhya Pradesh Chief Minister Shivraj Singh Chauhan) की भी जासूसी चीन करवा रहा है। इससे यह तो साफ जाहिर है कि चीन भारत के खिलाफ कोई बड़ी साजिश में है जिसके लिए वो डिजिटल साइबर हमला (Digital cyber attack) का इस्तेमाल कर रहा है।

दरअसल एक अंग्रेजी अखबार के मुताबिक, चीन भारत के बड़े संवैधानिक पदों पर बैठे राजनेताओं के साथ-साथ अधिकारियों की जासूसी लगातार कर रहा है। देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अलावा पूर्व पांच प्रधानमंत्रियों पूर्व एवं वर्तमान के 40 मुख्यमंत्रियों सहित 350 सांसद ,कानून निर्माता, मेयर, सरपंच और सेना से जुड़े करीब 1400 लोगों की जासूसी के मामले सामने आए हैं। अंग्रेजी अखबार ने जिन नामों का खुलासा किया है।  उसमें कई बड़े-बड़े लोगों के नाम तक शामिल है। जिनमें भारत के संवैधानिक पद पर बैठे 1400 लोगों सहित चीन, देश के उद्योगपतियों सहित बड़े-बड़े सहित कुल 10 हज़ार लोगों की भी जासूसी कर रहा है। इसी एक नाम में मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का भी नाम शामिल है। इनके अलावा महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी, दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनोज सिसोदिया, झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन समेत कुल 20 मुख्यमंत्रियों की जासूसी चीन करवा रहा है। इनके अलावा इस लिस्ट में 16 पूर्व मुख्यमंत्री भी शामिल है।

चीन की तरफ से जासूसी के कुछ प्रमुख नाम में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, चीफ जस्टिस एम ए बोबडे, लोकपाल जस्टिस पी सी घोष, कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह(Defense Minister Rajnath Singh), वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण(Finance Minister Nirmala Sitharaman), रेल मंत्री पीयूष गोयल(Railway Minister Piyush Goyal), कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद(Law Minister Ravi Shankar Prasad), मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान सहित उद्योगपति रतन टाटा(Ratan Tata) ,गौतम अदानी(Gautam Adani) के भी नाम शामिल है।

अंग्रेजी अखबार के इस खुलासे के बाद देश में हड़कंप की स्थिति मच गई है। एक तरफ जहां बॉर्डर पर भारत के साथ चीन की कूटनीतिक मोर्चे पर हार हो रही है। वहीं दूसरी तरफ चीन भारत के खिलाफ सबसे बड़ी जासूसी की साजिश रच रहा है। हालांकि खुलासे में यह स्पष्ट है कि चीन की एक कंपनी शेनझेन इन्फोटेक और झेंहुआ इन्फोटेक यह जासूसी कर रही है। खबर के मुताबिक यह चीन के कम्युनिस्ट पार्टी से जुड़ी हुई कंपनी है। वहीं भारत को सचेत रहने की हिदायत दी गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here