West Bengal Elections : मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर “हमले” को ECI ने नकारा

पश्चिम बंगाल सरकार द्वारा भारत निर्वाचन आयोग को जो रिपोर्ट भेजी गई है उसमें कहा गया है कि 10 मार्च को ममता बनर्जी को कार के दरवाजे से चोट लगी है। हालाँकि इस रिपोर्ट में ये नहीं कहा गया कि कार का दरवाजा ममता बनर्जी के पैर से कैसे टकराया।   

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। पश्चिम बंगाल के नंदीग्राम में चुनाव प्रचार के दौरान 10 मार्च को कार के दरवाजे से चोट लगने  के कारण घायल हुई मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (CM Mamata Banerjee) द्वारा लगाए गए हमले की साजिश के आरोपों को भारत निर्वाचन आयोग (ECI) ने ख़ारिज कर दिया है। चुनाव आयोग ने कहा कि राज्य सरकार और घटना की जाँच के लिए नियुक्त विशेष पर्यवेक्षकों की रिपोर्ट में हमले की साजिश के सुबूत नहीं मिले है।

ये भी पढ़ें – कब तक होंगे नगरीय निकायों के चुनाव, जानिए इस खबर में

भारत निर्वाचन आयोग (ECI) ने 10 मार्च की घटना के बाद पश्चिम बंगाल के मुख्य सचिव अलापन बन्दोपाध्याय से रिपोर्ट मांगी थी साथ ही विशेष पुलिस पर्यवेक्षक विवेक दुबे और विशेष पर्यवेक्षक अजय नायक से भी जाँच करवाई थी।  तीनों की रिपोर्ट आने के बाद आज रविवार को भारत निर्वाचन आयोग (ECI) के अधिकारियों  ने बैठक की और कहा कि  रिपोर्ट देखने के बाद कहा जा सकता है कि  10 मार्च की घटना में हमले के सुबूत नहीं है यानि ये कोई साजिश नहीं हो सकती। भारत निर्वाचन आयोग (ECI) ने कहा कि  जिस समय ममता बनर्जी  (Mamata Banerjee)के साथ हादसा हुआ आसपास भारी भीड़ थी और ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) कड़ी पुलिस सुरक्षा में थी।

आपको बता दें कि पश्चिम बंगाल सरकार द्वारा भारत निर्वाचन आयोग (ECI) को जो रिपोर्ट भेजी गई है उसमें कहा गया है कि 10 मार्च को ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) को कार के दरवाजे से चोट लगी है। हालाँकि इस रिपोर्ट में ये नहीं कहा गया कि कार का दरवाजा ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) के पैर से कैसे टकराया।