चलती ट्रैन में बुजुर्ग की मौत, इटारसी में उतारा शव, बैग से निकले आठ लाख रुपये

मृतक यात्री मैसूर निवासी है, वह सेवानिवृत्त प्रोफेसर थे। कुछ दिन पहले दिल्ली में रह रहे अपने भाई से मिलने गए थे, यहां से अपने घर लौटते समय उनकी मौत हो गई।

इटारसी, राहुल अग्रवाल| कर्नाटक एक्सप्रेस (Karnataka Express) से यात्रा कर रहे 70 वर्षीय बुजुर्ग की मौत सफर के दौरान हो गई। उसके पास बैग में 8 लाख रुपए मिले हैं। इटारसी रेलवे प्लेटफार्म (Itarsi Railway Platform) पर ट्रेन आने के बाद जीआरपी (GRP) ने शव को उतारा। जीआरपी के अनुसार मृतक के परिजनों को इसकी सूचना कर दी है, वे इटारसी के लिए रवाना हो चुके हैं।

मिली जानकारी के अनुसार दिल्ली से कर्नाटक एक्सप्रेस के एस-टू कोच के 41 नंबर बर्थ पर मैसूर निवासी 70 वर्षीय भीटी बेनू गोपाल नामक बुजुर्ग यात्रा कर रहे थे| सफर के दौरान इटारसी आने के पूर्व अचानक उनका स्वास्थ्य खराब हो गया, यात्री को ट्रेन में उपचार नहीं मिलने से इटारसी पहुंचने के पहले ही उन्होंने दम तोड़ दिया। संबंधित जानकारी जब इटारसी स्टेशन प्रबंधन को हुई तो उन्होंने ट्रेन आने के पूर्व जीआरपी को मेमो भेजा, इसलिए ट्रेन प्लेटफार्म पर आते ही जीआरपी ने उसके शव को कोच से नीचे उतारा, उसके पास बर्थ में एक बैग भी रखा था, जिसकी तलाश की गई तो उसमें नोट की गड्डियां थी। जब उनकी गिनती की गई तो 7 लाख 97 हजार रुपए निकले।

मृतक यात्री मैसूर निवासी है, वह सेवानिवृत्त प्रोफेसर थे। कुछ दिन पहले दिल्ली में रह रहे अपने भाई से मिलने गए थे, यहां से अपने घर लौटते समय उनकी मौत हो गई। सफर के दौरान किसी को रुपए की जानकारी होती तो वह चोरी भी हो सकते थे। जीआरपी ने मृतक के पास मिले मोबाइल के माध्यम से परिजनों से संपर्क कर उन्हें अवगत करा दिया है, जो इटारसी के लिए रवाना हो चुके हैं।

इनका कहना है…
मृतक ट्रेन में अकेले यात्रा कर रहा था, जिसकी सफर के दौरान मौत हो गई, उसके पास से लगभग आठ लाख रूपए बरामद हुए है।
बीएस चौहान , थाना प्रभारी जीआरपी