मध्य प्रदेश में बिजली महंगी, कमलनाथ ने शिवराज सरकार को घेरा,

कमलनाथ ने कहा कांग्रेस 19 दिसंबर को प्रदेश में पेट्रोल- डीज़ल मूल्यवृद्धि व किसान आंदोलन के समर्थन में विरोध दिवस मना रही है , उस दिन कांग्रेस इस बिजली दर वृद्धि का भी पुरज़ोर विरोध करेगी एवं जनहित में इस मूल्यवृद्धि को वापस लेने की माँग करेगी।

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट| मध्य प्रदेश (Madhyapradesh) में महंगे पेट्रोल डीजल (Petrol Diesel) का बोझ झेल रही जनता को अब बिजली महंगी होने से झटका लगा है| मध्यप्रदेश विद्युत नियामक आयोग ने प्रदेश में घरेलू बिजली की दरों में 1.98 फीसद की वृद्धि को मंजूरी दे दी है। बिजली दरों में वृद्धि पर पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ (Kamalnath) ने शिवराज सरकार (Shivraj Government) को घेरा है|

पूर्व सीएम कमलनाथ ने ट्वीट कर सरकार पर निशाना साधा| उन्होंने लिखा-अबकी बार महंगाई से राहत देने वाली सरकार का नारा देने वाली भाजपा जनता को महंगाई की आग में निरंतर झोंक रही है। पेट्रोल – डीज़ल की आसमान छूती क़ीमतों के बाद रसोई गैस सिलेंडर के दामों में भारी वृद्धि और अब बिजली की दरो में वृद्धि…?

कमलनाथ ने लिखा-महंगाई डायन खाय जात है का नारा देने वाले कोरोना काल में भी जनता को महंगाई की मार के बोझ तले कुचल रहे है। कांग्रेस सरकार ने जनता को 100 रुपए में 100 यूनिट बिजली देकर राहत प्रदान की थी लेकिन भाजपा सरकार ने बिजली महँगी कर जनता के साथ बड़ा धोखा किया है। कांग्रेस 19 दिसंबर को प्रदेश में पेट्रोल- डीज़ल मूल्यवृद्धि व किसान आंदोलन के समर्थन में विरोध दिवस मना रही है , उस दिन कांग्रेस इस बिजली दर वृद्धि का भी पुरज़ोर विरोध करेगी एवं जनहित में इस मूल्यवृद्धि को वापस लेने की माँग करेगी।

मध्य प्रदेश में बिजली महंगी, कमलनाथ ने शिवराज सरकार को घेरा,