अपनी मांगों को लेकर शिवराज सरकार के खिलाफ कर्मचारियों का प्रदर्शन

208

भोपाल।

मध्यप्रदेश में लॉकडाउन 5.0 के साथ अनलॉक फेज का पहला दिन शुरू हो गया है। दिन शुरू होते ही प्रदेश में विवाद कि स्थिति उत्पन्न हो गई है। जहाँ राजधानी में कर्मचारी कांग्रेस ने पांच सूत्रीय मांग को लेकर शिवराज सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया। वहीँ कर्मचारी कांग्रेस के नेता वीरेंद्र खोंगल ने शिवराज सरकार को कर्मचारी विरोधी सरकार बताया। इसी के साथ उन्होंने शिवराज सरकार पर कर्मचारियों का पैसा हजम करने का संगीन आरोप लगाया।

दरअसल संविदा कर्मचारी संघ के प्रांताध्यक्ष ने ढाई लाख संविदा कर्मचारियों को नियमित करने, अतिथि विद्वान संघ के प्रदेश संयोजक ने अतिथि विद्वान की नियमितीकरण, प्रदेश के पौने तीन लाख पेंशनर्स को 30 माह के डी ए के 300 करोड़ रूपए का भुगतान किये जाने की, दुग्ध संघों में कार्यरत ठेका श्रमिकों को समान कार्य के लिए समान वेतन देने, अस्थाई कर्मियों को सातवां वेतनमान देने की और सड़क परिवहन कर्मचारी के रोके गए 11 लाख की मांग राज्य शासन से की है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here