रोजगार सहायक की लाठियों से पिटाई, भागकर बचाई जान

गुना, विजय कुमार जोगी। चांचौड़ा जनपद की लखनवास पंचायत में गृह प्रवेश कार्यक्रम चल रहा था, तभी 30 बीघा जमीन और ट्रैक्टर का मालिक होने के बाद भी ग्रामीण ने रोजगार सहायक से प्रधानमंत्री आवास की मांग की। रोजगार सहायक ने दबंग ग्रामीण से कहा कि आपका पीएम आवास की सूची में नाम नहीं है। यह सुनते ही उसने सूची फाड़ दी और भाई के साथ मिलकर लाठियों से जमकर मारपीट की। रोजगार सहायक ने भागकर अपनी जान बचाई। दबंग ने जीआरएस से कहा कि अगर उसे आवास नहीं मिले, तो वह नौकरी नहीं करने देगा। जीआरएस ने चांचौड़ा थाने में मामला दर्ज कराकर एसडीएम को शिकायती आवेदन दिया है। साथ ही उसने कहा कि जब तक उसे पुलिस सुरक्षा नहीं दी जाएगी, तब तक वह काम करने नहीं जाएगा।

लखनवास गांव में शनिवार की दोपहर 5 हितग्राहियों को पीएम आवास की चाबी सौंपी गई। इस दौरान लोग अपने घरों में प्रवेश कर रहे थे, तभी देव स्थान पर पहलवान सिंह पुत्र दशरथ सिंह और गोविंद पुत्र दशरथ सिंह पहुंच गए। जीआरएस अतरसिंह मीणा से कहा कि मुझे तीन आवास चाहिए। जीआरएस ने आरोपित पहलवान सिंह से कहा कि आप 30 बीघा जमीन के मालिक हैं और एक ट्रैक्टर के मालिक भी हैं। पहलवान सिंह ने जीआरएस के साथ पहले गाली-गलौज करते हुए सूची फाड़ दी और भाई के साथ लाठियों से मारपीट कर दी। आसपास खड़े ग्रामीण जीआरएस के साथ हो रही मारपीट को देखते रहे, लेकिन कोई बचाने आगे नहीं आया।

चांचौड़ा थाने में जीआरएस ने दो आरोपितों के खिलाफ मामला दर्ज करा दिया है। जीआरएस ने बताया कि दबंगों ने धमकी दी है कि गांव में नौकरी नहीं करने देंगे, जिससे कभी भी उसके साथ आकस्मिक घटना की आशंका है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here