3 नोटिस के बाद भी पूर्व मंत्री ने नही खाली किया बंगला, टीम के साथ पहुंचा प्रशासन

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट

सत्ता में वापसी के बाद से ही शिवराज सरकार(Shivraj government) कांग्रेस के पूर्व मंत्रियों के बंगले को लेकर विवादों में घिरी रही है। समय-समय पर शिवराज सरकार कांग्रेस के पूर्व मंत्रियों के बंगलों पर कार्रवाई करती रहती है। इसी केस में अब नया मामला पूर्व मंत्री विजयलक्ष्मी साधौ का आया है। जिनके बंगले को खाली कराने में अब प्रशासन जुट गया है।

दरअसल सोमवार को संपदा विभाग की टीम पूर्व मंत्री विजयलक्ष्मी साधौ का चार इमली स्थित बंगला खाली करवाने के लिए बंगले पर पहुंची। इससे पहले भी साधौ को संपदा विभाग की ओर से तीन बार बंगला खाली करने का नोटिस दिया जा चुका है लेकिन बंगला खाली नहीं होने पर आज पुलिस और पीडब्ल्यूडी के अधिकारी उनका बंगला खाली करवाने पहुंचे। जानकारी के मुताबिक पूर्व मंत्री साधौ का बंगला किसी अन्य मंत्री को अलॉट किया जा चुका है। जिसके लिए अब उनसे बंगले को खाली करवाया जा रहा है।

बता दें कि शिवराज सरकार ने पूर्व मंत्रियों को बंगला खाली करने के नोटिस दिए थे लेकिन किसी ने बंगला खाली नहीं किया था। वहीं पूर्व मंत्री तरुण भनोट का बंगला सील भी कर दिया गया है और 24 जून तक बंगले से सामान खाली करना का वक्त दिया गया था। जिसपर कांग्रेस ने व्यवस्था पर सवाल उठाते हुए कहा था कि सरकारी व्यवस्था सरकारी कार्यक्षमता के अनुसार होनी चाहिए। सरकारी बंगले की जगह फ्लैट बनाये जाएं। इस तरह की राजनीति सही नहीं है।