फर्जी राशन कार्ड मामला: कमिश्नर का एक्शन, सहायक आपूर्ति अधिकारी सस्पेंड

इस मामले में हर दिन नए खुलासे होने के बाद विभागीय जांच में भी तेज आई है। माना जा रहा है कि जल्द ही इस मामले में नए खुलासे सामने आएंगे।

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश (Madhya pradesh) की राजधानी भोपाल (bhopal) में फर्जी राशन कार्ड के मामले में प्रशासन लगातार निलंबन (suspend) की कार्रवाई कर रहा है। बड़ी संख्या में कोरे राशन कार्ड (ration card) मिलने के बाद यह कार्रवाई की जा रही है। इस मामले में अब सहायक आपूर्ति अधिकारी (Assistant supply officer) को भी निलंबित कर दिया है। वहीं कोरे राशन कार्ड मामले में फर्जीवाड़े की जांच की जा रही है।

दरअसल बीते दिनों राजधानी में गैर सरकारी लोगों के पास बड़ी संख्या में कोरे राशन कार्ड पाए गए थे। जिसके बाद भोपाल कमिश्नर कविंद्र कियावत (Kavindra Kiyavat) ने मामले में कार्रवाई करते हुए कनिष्ठ आपूर्ति अधिकारी मयंक द्विवेदी (Junior Supply Officer Mayank Dwivedi) और प्रताप सिंह को निलंबित कर दिया था। अब इस मामले में सहायक आपूर्ति अधिकारी दिनेश अहिरवार पर कमिश्नर (Commissioner) की गाज गिरी है। जहां उन्हें कमिश्नर के आदेश पर निलंबित कर दिया गया।

Read More: राज्यसभा सांसद विवेक तन्खा का भाजपा सरकार से सवाल – क्या सिर्फ भाजपाई ही हिंदुस्तानी

बता दें कि पिछले दिनों शहर के चांदवड क्षेत्र में 800 कोरे राशन कार्ड बरामद किए गए थे। इन राशन कार्ड पर किसी का भी नाम अंकित नहीं था। इसके बाद ही आशंका जताई गई थी कि राजधानी में फर्जी तरीके से राशन कार्ड बनाए जा रहे हैं। इतना ही नहीं फर्जी कोरे राशनकार्ड के ऊपर सील और हस्ताक्षर भी पाए गए हैं।

वहीं इस मामले में यह पता लगाया जा रहा है कि राशन कार्ड मामले में यह फर्जीवाड़ा कब से राजधानी में चल रहा है। इस मामले में हर दिन नए खुलासे होने के बाद विभागीय जांच में भी तेज आई है। माना जा रहा है कि जल्द ही इस मामले में नए खुलासे सामने आएंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here