छतरपुर : बारदाने की मांग को लेकर अनिश्चितकालीन धरने पर बैठे किसान

छतरपुर जिले में बारदाने की मांग को लेकर किसान अनिश्चितकालीन धरने पर बैठ गए हैं। दरअसल खरीदी केन्द्रों पर बारदाना नहीं होने के चलते गेहूं बारिश में भीग गए हैं।

छतरपुर, संजय अवस्थी। इन दिनों जिले के खरीदी केंद्रों पर बारदाना की समस्या बनी हुई है। रविवार को राजनगर तहसील क्षेत्र के ग्राम झमटुली के खरीदी केन्द्र पर बारदाने की मांग को लेकर किसान अनिश्चितकालीन धरने पर बैठ गए। वहीं शाम के समय हुई बारिश से केन्द्र पर रखा कई क्विंटल गेहूं भीग गया। गेहूं भीगने से भारी नुकसान की आशंका भी जताई जा रही है। बिजावार विधायक राजेश शुक्ला ने किसानों के साथ धरने पर बैठने की बात कही है।

यह भी पढ़ें:-केंद्रीय मंत्री का तंज- कांग्रेस का नेतृत्व नादान, देशहित नहीं सिर्फ राजनीति दिखती

प्रदर्शन कर रहे किसान रंजन पांडे ने बताया कि केन्द्र पर पिछले 10 दिनों से बारदाना नहीं है और जिम्मेदार कर्मचारियों द्वारा कोई संतोषजनक जवाब भी नहीं दिया जा रहा है। जिस कारण से उन्हें कई परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। वहीं शाम के समय हुई बेमौसम बरसात के कारण खुले आसमान के नीचे गेहूं रखा कई क्विंटल गेहूं भीग गया, जिससे बड़े नुकसान की आशंका है। धरने पर बैठे बलादीन अहिरवार, हरप्रसाद पटेल, भूरे पटेल, रामेश्वर पटेल, हजारी पटेल, नोने लाल पटेल सहित अन्य किसानों का कहना है कि जब तक केन्द्र पर बारदाने की व्यवस्था नहीं होती तब तक वे धरने पर बैठे रहेंगे।

छतरपुर : बारदाने की मांग को लेकर अनिश्चितकालीन धरने पर बैठे किसान

बिजावार विधायक राजेश शुक्ला का कहना है कि मैंने दो दिन पहले प्रशासन को चेतावनी दी कि यदि दो दिन में बारदाने की व्यवस्था न हुई तो मैं स्वयं किसानों के साथ धरना दूंगा। गेहूं भीगने की जानकारी मिली है, कल से मैं भी किसानों के साथ धरना दूंगा।