गेंहू की तुलाई ना होने पर किसानों ने दी आत्महत्या की चेतावनी

विदिशा।विपिन शर्मा
शमशाबाद खरीदी केंद्र पर पिछले एक सप्ताह से बारदाना खत्म होने से गेंहू की तुलाई बन्द पड़ी है इस आक्रोशित किसानों ने तहसीदार निवास का घेराव व रोड जाम कर गेंहू तुलाई शुरू करने की मांग की ।किसानों ने बताया इस तपती धूप में खुले आसमान मैं घर बार छोड़कर गेंहू की तुलाई का इंतज़ार कर रहा है लेकिन एक सप्ताह बीत जाने के बाद भी अभी तक खरीदी केंद्र पर वारदाना नही यदि हमारे गेंहू की तुलाई समय पर नही हुई तो कर्ज नही चुका पाएंगे और मजबूरन हमे आत्मा हत्या जैसा कदम उठाना पड़ेगा । दरअसल शमशाबाद सोसायटी की खरीदी केंद्र भगवानपुर,शमशाबाद, डंगरवाडा खरीदी केंद्र पर बारदाना खत्म होने से गेहूं की खरीदी बन्द पड़ी है जिससे किसान खुले आसमान के नीचे तपती धूप में तुलाई का इंतज़ार कर रहे हैं किसानों ने बताया कि 10 पूर्व हमारे पास खरीदी केंद्र से मेसिज गेंहू तुलाई के लिए आया था तो हम खरीदी केंद्र ट्राली मे गेंहू लेकर आये तो यहाँ पता चला कि वारदाना नही है और तुलाई बंद है हमने अधिकरियो से पूछा तो साइड बंद होने की बात कह रहे हैं लेकिन एक सप्ताह बीत जाने के बाद भी आज तक वारदाना नही आया एक सप्ताह से हम खुले आसमान के नीचे धूप में तुलाई का इंतज़ार कर रहे हैं और इतने में मौसम खराब हो जाता है तो बारिस के डर से अनाज को पन्नी से ढक देते हैं की हमारा अनाज भीग जाता है तो दूसरे दिन धूप में सुखाते है औऱ किसानों ने बताया की साहब हम 4 माह खेत में दिन रात मेहनत करके अनाज पैदा करते हैं और फिर बचने के लिए खरीदी केंद्र का इंतज़ार करते हैं की हमारी फसल सरकारी दामो मे बिके ओर हमे अच्छे दाम मिले जिससे हम अपना कर्ज चुकाए ओर परिवार का भरणपोषण कर लेकिन खरीदी केंद्र पर वारदाना न होने से फसल समय पर नही बिक रही जिससे हमें परेशान हैं हम मीडिया के माध्यम से सरकार से गुहार लगाकर बारदाना भेजने की मांग करते हैं किसानों ने बताया कि सरकार 26 मई तक खरीदी की अंतिम तारीख है ऐसे में एक सप्ताह से तुलाई बन्द होने से कैसे हमारा अनाज तुलाई हो जाएगी वही अधिकारी से पूछा तो वारदाना जल्द आने की बात कही गई