पूर्व मंत्री के बदले सुर, बोले-किसी से कोई नाराजगी नहीं, उपचुनाव में मिलेगी जीत

दीपक जोशी

भोपाल।

दो दिन पहले तक अपनी ही पार्टी को बगावती तेवर दिखाने वाले पूर्व मंत्री दीपक जोशी(Deepak joshi) पार्टी नेताओं के तलब किए जाने के बाद बैकफुट पर आ गए हैं। उन्होंने बीजेपी छोड़ दूसरे दल में जाने की अटकलों को खारिज कर दिया है। जोशी का कहना है कि वो बीजेपी(bjp) के हैं और बीजेपी में ही रहेंगे। वहीँ उन्होंने दावा किया है कि हाटपिपल्या से बीजेपी उपचुनाव में जरूर जीत हासिल करेगी।

दरअसल पूर्व मंत्री दीपक जोशी के बगावती तेवर सामने आने की खबरों को लेकर बीजेपी ने उन्हें तलब किया था। बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष वी.डी. शर्मा(VD Sharma) से उनकी बीजेपी कार्यालय में मुलाकात हुई। वहीं बीजेपी कार्यालय पहुंचने पर दीपक जोशी ने स्पष्ट किया कि वह बीजेपी में ही है और उपचुनाव में बीजेपी की ही जीत होगी। बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष के बाद संगठन महामंत्री सुहास भगत ने भी दीपक जोशी को तलब किया था। जिसके बाद दीपक जोशी के सुर बदले हुए हैं। वहीँ अपने पूर्व के बयानों पर चुप्पी साधते हुए जोशी ने कहा कि बीजेपी में किसी से कोई नाराजगी नहीं है।जोशी ने कहा कि हाटपिपलिया में बीजेपी की जीत होगी।

बता दें कि पूर्व मंत्री और भाजपा से तीन बार के विधायक दीपक जोशी ने कहा था कि अभी वो पार्टी(party) के साथ हैं लेकिन उनके लिए सारे विकल्प खुले हैं और वक्त आने पर वो इस पर विचार कर सकते हैं। उन्होंने कहा है कि मैं भी मनुष्य हूं। अगर राजनीति का यही रूप है तो इसका प्रयोग मैं भी करूंगा। बता दें कि हाटपिपल्या विधानसभा सीट से उपचुनाव मनोज चौधरी लड़ेंगे। ऐसे में दीपक जोशी अपने राजनीतिक भविष्य को लेकर असमंजस की स्थिति में हैं। जिसके बाद ये अंदेशा लगाया जा रहा है कि वो दूसरे विकल्प पर भी विचार कर सकते है। दूसरी तरफ प्रदेश में अभी 24 सीटों पर उपचुनाव होने को है। इसे लेकर बीजेपी अभी से तैयारी में जुट गई है। वहीं बीजेपी ने साफ किया है कि 24 में से 22 सीटों पर सिंधिया समर्थकों को टिकट दिया जाएगा।