पूर्व मुख्यमंत्री केशुभाई पटेल का निधन, मुख्यमंत्री ने किया शोक व्यक्त

2001 में मुख्यमंत्री पद से उनके इस्तीफा देने के बाद नरेंद्र मोदी गुजरात के मुख्यमंत्री बने थे। वही केशुभाई पटेल राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के बड़े नेता भी माने जाते थे।

गुजरात, डेस्क रिपोर्ट। गुजरात (Gujrat) के पूर्व मुख्यमंत्री (former chiefminister) और भाजपा के दिग्गज नेता केशुभाई पटेल (Keshubhai Patel) का गुरुवार को निधन हो गया। सुबह सांस लेने की तकलीफ के बाद केशुभाई पटेल को अस्पताल (hospital) में भर्ती कराया गया था। जहां उन्होंने अंतिम सांस ली। केशुभाई पटेल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Primeminister Narendra Modi)  के काफी करीबी माने जाते हैं।

दरअसल कुछ वक्त पहले 92 वर्षीय केशुभाई पटेल कोरोना पॉजिटिव (corona positive) पाए गए थे। हालांकि उन्होंने कोरोना से जंग जीत ली थी लेकिन गुरुवार सुबह सांस लेने में तकलीफ होने के बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां वह जिंदगी की जंग हार गए। केशुभाई पटेल के निधन से राज्य के मुख्यमंत्री विजय रुपाणी ने शोक व्यक्त किया है।

Read More: वरिष्ठ कांग्रेसी नेता का कोरोना से निधन, वित्त मंत्री ने जताया शोक

बता दें कि पूर्व मुख्यमंत्री केशुभाई पटेल दो बार गुजरात के मुख्यमंत्री रह चुके हैं। 1995 और 1998 में केशुभाई पटेल राज्य के मुख्यमंत्री बने थे। दोनों बार केशुभाई पटेल अपना कार्यकाल पूरा नहीं कर पाए थे। इसके साथ ही साथ पूर्व मुख्यमंत्री केशुभाई पटेल गुजरात के उपमुख्यमंत्री का पद संभाल चुके हैं।हालांकि बीजेपी से केशुभाई के मनमुटाव के बाद उन्होंने 2012 में अपनी पार्टी बनाई थी। मुद्दा सुलझने के बाद अपनी पार्टी गुजरात परिवर्तन पार्टी को 2014 में केशुभाई पटेल ने बीजेपी में शामिल कर दिया था।

दिलचस्प बात यह है कि 2001 में मुख्यमंत्री पद से उनके इस्तीफा देने के बाद नरेंद्र मोदी गुजरात के मुख्यमंत्री बने थे। वही केशुभाई पटेल राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के बड़े नेता भी माने जाते थे।

इधर मध्य प्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने केशुभाई पटेल के निधन पर शोक व्यक्त किया है। उन्होंने लिखा कि गुजरात के पूर्व मुख्यमंत्री और दिग्गज नेता केशुभाई पटेल जी के निधन की दुखद सूचना से मन आहत है। वे एक कुशल संगठनकर्ता थे जिन्होंने राज्य में बीजेपी को मजबूत करने में अहम योगदान दिया। ईश्वर से दिवंगत आत्मा की शांति और उनके परिजनों को यह दुख सहन करने की शक्ति प्रदान करें।