Coronavirus : पूर्व मुख्यमंत्री की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आने से नेताओं में हड़कंप

अहमदाबाद।

आम आदमी से होते हुआ कोरोना अब नेताओं की तरफ तेजी से बढ रहा है। आए दिन भाजपा-कांग्रेस के नेता (bjp-congress leaders) कोरोना (corona) की चपेट में आ रहे है। अब गुजरात के पूर्व मुख्यमंत्री शंकर सिंह वाघेला (Former Chief Minister of Gujarat Shankar Singh Vaghela) और वर्तमान में ही एनसीपी से अपना नाता तोडऩेवाले की रिपोर्ट पॉजिटिव आने से हड़कंप मच गया है।

बताया जा रहा है कि वाघेला को पिछले दो तीन दिनों से उन्हें बुख़ार आ रहा था। इसके बाद शनिवार को उनका कोरोना टेस्ट करवाया गया था, जिसमें संक्रमण की पुष्टि की गई है। कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद उन्होंने खुद को होम क्वारनटीन कर लिया है।लेकिन रविवार को वाघेला ने बताया कि उनके निजी डॉक्टर की सलाह पर उन्होंने अस्पताल में इलाज करवाना बेहतर समझा। ऐसे में रविवार को शंकर सिंह वाघेला को अस्पताल में भर्ती कराया गया।

शंकर सिंह वाघेला पिछले कई दिनों से अपने घर से बाहर नहीं गये थे। ऐसे में उनका कोरोना रीपोर्ट पॉजीटीव आने से स्थानीय प्रसाशन इस जांच में जुट गया है कि उनको संक्रमण किससे लगा। उनके घर उनके समर्थकों और कार्यकर्ताओं का आना-जाना लगा रहता है। ऐसे में उनसे पिछले दिनों संपर्क में आने वाले लोगों की सूची बनाकर खोज की जा रही है।

ज्ञातव्य है कि शंकर सिंह वाघेला के पहले राज्य के दिग्गज कांग्रेसी नेता भरत सिंह सोलंकी भी कोरोना पॉजीटीव पाये गये हैं। शंकर सिंह वाघेला ने राज्यसभा चुनाव के बाद एनसीपी के जनरल सेक्रेटरी सहित सभी पदों से इस्तीफा दे दिया था। यह जानकारी उन्होंने ट्वीटर के माध्यम से साझा की थी।

बता दें कि समर्थकों के बीच ‘बापू’ के नाम से मशहूर वाघेला 1996 में गुजरात के मुख्यमंत्री रह चुके हैं। वाघेला राज्य में कांगेस पार्टी का बड़ा चेहरा है। वाघेला अक्टूबर 1996 से अक्टूबर 1997 तक राज्य के सीएम रह चुके हैं। वाघेला साल 1977 में पहली बार सांसद बने थे। फिलहाल कांग्रेस में हैं और राज्य में विपक्ष के नेता हैं।