पूर्व मंत्री और कांग्रेस के दिग्गज नेता का इलाज के दौरान निधन, सीएम ने जताया शोक

मुख्यमंत्री ने भी उनके निधन पर शोक जताया है।

नगरीय निकाय चुनाव

रांची, डेस्क रिपोर्ट। रविवार को कांग्रेस के लिए एक दुखद खबर सामने आई है। जहां पूर्व मंत्री (Former Minister) और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ओमप्रकाश लाल का निधन हो गया है। वह कोरोना वायरस (corona virus) से संक्रमित थी। जिसके बाद रिम्स (RIMS) के कोरोना वार्ड (corona ward) में उनका इलाज चल रहा था। निधन के 1 दिन पूर्व वह कोरोना नेगेटिव (corona negative) पाए गए थे। पूर्व मंत्री ओमप्रकाश लाल (OM Prakash Lal) के निधन से पार्टी में शोक की लहर दौड़ पड़ी है। वही मुख्यमंत्री ने भी उनके निधन पर शोक जताया है।

दरअसल बाघमारा से तीन बार विधायक रहे पूर्व मंत्री 82 वर्षीय ओमप्रकाश लाल कुछ दिन पहले ही कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे। जहां इलाज के लिए उन्हें रिम्स के कोरोना वार्ड में भर्ती कराया गया था। हालांकि निधन से 1 दिन पूर्व भी वह कोरोना नेगेटिव पाए गए थे। ओमप्रकाश लाल राजनीति में हमेशा सक्रिय रहे थे। इसके साथ ही साथ वह कार्यकारी अध्यक्ष और झारखंड इंटक के कार्यकारी भी थे।

Read This: कमलनाथ की कुर्सी के लिए दावेदारों की लंबी लिस्ट, आधा दर्जन दिग्गज रेस में शामिल

बता दे की ओ पी लाल 1980, 85 और 1995 में बाघमारा विधानसभा क्षेत्र से लगातार तीन बार विधायक बने थे। इसके साथ ही धनबाद कोयलांचल में उनके गिनती एक दिग्गज जननेता के रूप में होते थे। इधर उनके निधन पर मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन(Hemant Soren), झारखंड प्रदेश कांग्रेस प्रभारी आरपीएन सिंह, अध्यक्ष रामेश्वर उरांव सहित प्रदेश के तमाम कांग्रेसी नेताओं ने शोक व्यक्त किया है।

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने दुख व्यक्त करते हुए दिवंगत आत्मा की शांति एवं परिजनों को दुख सहने की शक्ति देने कि ईश्वर से प्रार्थना की है। इसके साथ ही प्रदेश कांग्रेस प्रभारी आरपीएन सिंह ने कहा ओपी लाल कांग्रेस के प्रति हमेशा प्रतिबद्ध रहे। इधर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष रामेश्वर उरांव ने शोक व्यक्त करते हुए कहा है कि आज पार्टी ने एक जन नेता को खो दिया। वह मजदूरों के बीच काफी लोकप्रिय थे और मजदूर हितों के लिए हमेशा आवाज उठाते थे। उनका जाना मजदूर जगत के लिए भी एक अपूरणीय क्षति है।