कांग्रेस में शामिल हुई पूर्व विधायक पारुल साहू, सबसे पहले किया ये काम

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्यप्रदेश(Madhyapradesh) में सियासी वार के बीच दलबदल का सिलसिला शुरू हो गया है। उपचुनाव की तारीखों को ऐलान से पहले बीजेपी(BJP) को बड़ा झटका देते हुए पारुल साहू आज कांग्रेस(congress) में शामिल हो रही हैं। वहीँ कांग्रेस में शामिल होने से पहले भाजपा की पूर्व विधायक पारुल साहू(parul sahu) ने कांग्रेस का दामन थामने से पहले मंदिर जाकर दुर्गा जी का आशीर्वाद लिया। पारुल साहू सागर के सुरखी विधानसभा क्षेत्र से कांग्रेस की प्रत्याशी होगी। पारुल साहू की घर वापसी पर बोलते हुए कमलनाथ ने कहा कि पारुल साहू की घर वापसी है, इनका पूरा परिवार कांग्रेस में रहा हैं।

दरअसल सियासी गलियारों में कुछ दिनों से पारुल साहू के कांग्रेस में जाने की अटकलें लगाईं जा रही थी। इस बीच गुरूवार देर रात पारुल साहू ने अपने समर्थकों के साथ पूर्व सीएम कमलनाथ(former CM Kamalnath) से मुलाकात की थी। जिसके बाद से ये तय माना जा रहा था कि पारुल कांग्रेस का हाथ थाम सकती है। पारुल की छवि एक भद्र राजनीतिज्ञ के रूप में मानी जाती है और विदेश से पढ़ाई करके वापस लौटी पारुल हमेशा सामाजिक सरोकार से जुड़े हुए मुद्दों को उठाने को लेकर चर्चा में रही हैपारुल की छवि एक भद्र राजनीतिज्ञ के रूप में मानी जाती है और विदेश से पढ़ाई करके वापस लौटी पारुल हमेशा सामाजिक सरोकार से जुड़े हुए मुद्दों को उठाने को लेकर चर्चा में रही है।

भाजपा की पूर्व विधायक पारुल साहू ने 2013 के विधानसभा चुनाव मे कांग्रेस के गोविन्द राजपूत को 41 मतों से पराजित किया था। जबकि पारुल ने 2013 के विधानसभा चुनाव के कुछ ही दिन पहले भाजपा की सदस्यता ग्रहण की थी। कांग्रेस के इस दांव ने सागर और सिंधिया के सियासी खेमे मे हलचल मचा दी है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here