पूर्व मंत्री ने फिर घेरा शिवराज सरकार को, कहा- सीएम शिवराज ने प्रदेश को बना दिया कालाबाजारी का अड्डा

देवास, डेस्क रिपोर्ट

प्रदेश में आय दिन सियासी हलचल मची रहती है। भाजपा-कांग्रेस दोनों ही पार्टी के बीच एक दूसरे पर आरोप प्रत्यारोप का सिलसिला जारी रहता है। रविवार को एक बार फिर कांग्रेस के पूर्व मंत्री (former minster) और सोनकच्छ से विधायक  सज्जन सिंह वर्मा( Sonkatch MLA Sajjan Singh Verma) ने एक बयान जारी किया है। जारी बयान पर पूर्व मंत्री ने प्रदेश में हो रही अनाज की कालाबाजारी (black Marketting) को लेकर प्रदेश सरकार को घेरा है।

सागर और देवास में भारी मात्रा में पकडाए PDS (Public Distribution System) के गेंहू और चावल की घटना को लेकर पूर्व मंत्री ने शिवराज सरकार (Shivraj Government) पर निशाना साधते हुए कहा कि भाजपा के नेता कालाबाजारी में माहिर है, इनको गरीब के मुहं और पेट का निवाला छीनते हुए शर्म आना चाहिए।

आगे उन्होंने कहा कि बड़े ही दु:ख की बात है कि मैं देवास में हूं और यहां पीडीएस (PDS) का चावल पकड़ा रहा हूं। वहीं अंधेर भाजपा के शासनकाल में कलेक्टर-एसपी सो रहे है। लेकिन एक दिन जरुर आएगा जब भाजपा के चहरे का नकाब उतरेगा। पूर्व मंत्री ने सागर में हुई कालाबाजारी के बारे में जिक्र करते हुए कहा कि मंत्री गोविंद सिंह राजपूत (Minister Govind Singh Rajput) के इलाके से 8 ट्रक पीडीएस का अनाज पकड़ाया गया था। सरकार की निंदा करते हुए पूर्व मंत्री ने कहा कि पूरे प्रदेश को सीएम शिवराज (CM Shivraj) ने कालाबाजारी का अड्डा बना दिया है और वो किसानों के नाम पर घड़ियाली आंसू बहाते नजर आते है।

पूर्व मंत्री ने मांग करते हुए कहा कि हमने 22 लाख किसानों का कर्जा माफ किया था, बाकी के किसानों का कर्जा अब शिवराज सरकार माफ करेगी। अगर दो महीने के भीतर किसानों का कर्जा माफ नहीं किया जाता है तो दोबारा से कांग्रेस सरकार सत्ता में आएगी और बचे हुए किसानों का कर्जा माफ करेगी।