पंचतत्व में विलीन हुए पूर्व विधायक देवड़ा, पूर्व मंत्री भी हुए शामिल

देवास/बागली।सोमेश उपाध्याय

भाजपा के वरिष्ठ नेता व देवास जिले की आदिवासी बाहुल्य सीट बागली से 2 बार क विधायक रहे चंपालाल देवड़ा का लम्बी बीमारी के बाद गुरुवार को भोपाल के निजी अस्पताल में निधन हो गया। देवड़ा लंबे समय से कैंसर से जंग लड़ रहे थे!बागली आदिवासी आरक्षित होने के बाद पहली बार सन 2008 व दूसरी बार 2013 में विधायक चुने गए। 2018 में उन्हें टिकट नही मिला। देवड़ा मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के चहेते विधायको में से एक थे।बागली अनुभाग के आदिवासी निर्धन परिवार से ताल्लुक रखने वाले देवड़ा के राजनीतिक गुरु पूर्व मुख्यमंत्री स्व.कैलाश जोशी थे। ग्राम इमलीपुरा के सरपंच के रूप में अपने राजनीतिक जीवन को शुरुआत करने वाले देवड़ा ने अपने सँघर्ष के दिनों में मजदूरी भी करि।देवड़ा की छवि सादगीप्रिय ईमानदार नेता के रूप में बनी हुई है!विधायक रहते हुए भी देवड़ा ने अपनी सादगी नही छोड़ी।उनका शव भोपाल से उनके गृह ग्राम इमलीपूरा लाया गया।दोपहर 4 बजे देवड़ा पंचतत्व में विलीन हो गए।

उधर उनकी अंतिम यात्रा में पूर्व मंत्री दीपक जोशी, बागली विधायक पहाड़ सिंह कन्नोजे, खातेगांव विधायक आशीष शर्मा भी मौजूद रहें। आमजनों के दर्शन के लिए उनका पार्थिक शरीर ईमलीपूरा स्थित उनके घर पर रखा गया था। वहीं लॉकडाउन का पालन करते हुए लोगों ने उनके अंतिम दर्शन कि ए। इसके बाद उनकी अंतिम यात्रा स्थानीय मुक्तिधाम पहुँची जहा देवड़ा के पुत्र कान्हा व खुशहाल ने मुखाग्नि दी।

अंतिम यात्रा के समय लोगों की भीड़ ज्यादा नहीं रही। इसको लेकर भाजपा मंडल अध्यक्ष टिकेन्द्रप्रताप सिंह ने पहले ही लोगों से कह दिया था। वहीं इससे शरीरिक दूरियां का भी पालन हो सके । लॉकडाउन की स्थिति बनीं होने के चलते बहुत ही कम लोग उनकी अंतिम यात्रा में शामिल हो पाए।क्षेत्र की जनता ने घरों पर ही रहकर उन्हें भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की।इस दौरान एसडीएम अजित कुमार श्रीवास्तव,एसडीओपी एसएल सिसोदिया समेत तमाम प्रसाशनिक अधिकारी भी मौजूद थे!

सीएम ने दूरभाष पर की चर्चा

देवड़ा के निधन पर भाजपा-कांग्रेस के अनेक दिग्गजों ने शोक प्रकट किया।मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान व भाजपा प्रदेशाध्यक्ष वीडी शर्मा ने देवड़ा के पुत्र व भाई से दूरभाष पर चर्चा की।पूर्व सीएम दिग्वविजय सिंह,भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलास विजयवर्गीय,पूर्व मंत्री गोपाल भार्गव,अर्चना चिटनीस, सांसद नन्दकुमार सिंह चौहान, मनोज चौधरी आदि ने श्रधांजलि दी।

इन्होने ने दी श्रद्धांजलि

उदयनगर मण्डल अध्यक्ष शैलेन्द्र अग्रवाल,अनिल कटारिया,कमल जायसवाल,गोविंद चौहान,मुकेश गुप्ता,अमोल राठौर,श्यामा तोमर,सोमेश उपाध्याय,अमित धूलिए आदि ने श्रद्धांजलि दी।

परिवार के साथ खड़े है-दीपक जोशी

पूर्व मंत्री दीपक जोशी ने कहा कि चंपालाल जी विधानसभा में मेरे साथी थे।अपनी सरल सहज छवि के कारण जनता में उनकी लोकप्रियता थी।बागली विधानसभा में स्व.पिताजी की राजनीतिक विरासत को उन्होंने 10 वर्षो तक सँवारा।दुखद छण में हम सभी उनके परिवार के साथ खड़े है!

उनके सपनों को साकार करेंगे-विधायक कन्नोजे

विधायक पहाड़ सिंह कन्नोजे ने देवड़ा को याद करते हुए बताया कि छोटे से गाँव के छोटे से परीवार से उठकर स्व.जोशी जी की कर्मभूमी की उन्होंने जिस ईमानदारी व उदारता से सेवा की वह प्रत्येक भाजपा के जन प्रतिनिधि हेतु एक अध्ययन की वस्तु है!उसे पड़कर सही अर्थों में जन सेवक बन सकता है !अब नियति के इस क्रूर चक्र को स्वीकार करते हुए में अपनी और से और समस्त बागली विधानसभा की और से उन महामना को अपनी अश्रुपूरित एवं कारुणिक श्रद्धांजली अर्पित करते हुए उनके बागली विधानसभा के लिए जो सुखद स्वप्न थे उन्हें पूर्ण करने का प्रयास करूँगा यही मेरी और से उनको पुष्पांजली होगी

सादगी हमेशा याद आएगी-विधायक शर्मा

चंपालाल जी की सादगी हमेशा याद आएगी।जनसरोकार से जुड़े हर कार्य मे वे आगे रहते थे।निर्धन परिवार से उठ कर उन्होंने बेदाग राजनीतिक पारी खेली।उनका सम्पूर्ण भाजपा परिवार की छती है।