आज से भक्तों के लिए खुलेंगे “बाबा महाकाल” के द्वार, मंदिर को किया गया सेनेटाइज

उज्जैन। योगेश कुल्मी

उज्जैन में सोमवार से महाकाल मंदिर(mahakal temple) केंद्र की गाइडलाइन अनुसार खुल गए हैं। महाकाल मंदिर में सुबह होने वाली भस्म आरती में किसी भी श्रद्धालु को प्रवेश नहीं दिया गया।श्रद्धालुओं के पहले जत्थे को सुबह 8 से 10 बजे के बीच प्रवेश दिया जाएगा। मंदिरों में तिलक-चंदन नहीं होगा। श्रद्धालुओं को दूर से दर्शन करने होंगे। इससे पहले सोमवार को श्री महाकालेश्वर ज्योतिर्लिंग उज्जैन मंदिर परिसर को सेनटाइज किया गया है।

दरअसल श्री महाकालेश्वर ज्योतिर्लिंग उज्जैन मंदिर (Mahakaleshwar Jyotirlinga) में 8 जून से नई दर्शन व्यवस्था लागू होगी। अब अगर आपको महाकाल के दर्शन करने हैं तो मात्र प्री-बुकिंग के आधार पर मन्दिर में प्रवेश होगा, सीधे मन्दिर पहुँचने पर दर्शन नहीं हो सकेंगे। श्रद्धालु को महाकाल मंदिर (Mahakal Temple) आने से एक दिन पहले इस नंबर (18002331008) पर बुकिंग करानी होगी| भस्मा आरती सहित महाकाल की किसी भी आरती में श्रद्धालुओं का प्रवेश नहीं रहेगा| इस नंबर पर बुकिंग करने पर सिर्फ महाकाल मंदिर के सुबह 8:00 बजे से शाम 6:00 बजे तक दर्शन किए जा सकेंगे| भक्तों को दर्शन के लिए ऑनलाइन, एप, टोल फ्री नंबर या मंदिर काउंटर से परमिशन लेनी होगी।

इसी के साथ महाकालेश्वर मन्दिर में दर्शनार्थियों को दर्शन सोमवार 8 जून से प्रारम्भ होंगे। दर्शन तीन स्लॉट में होंगे । पहले स्लॉट का समय प्रात: 8 बजे से 10 बजे तक, दूसरे स्लॉट में प्रात: 11 बजे से दोपहर एक बजे तक और तीसरे स्लॉट में दोपहर 2 बजे से शाम 6 बजे तक दर्शन होंगे। तीनों स्लॉट के बीच के समय में सेनेटाइजेशन किया जायेगा। शाम 6 बजे से 7 बजे तक साफ-सफाई आदि करने के बाद दर्शनार्थियों के लिये प्रवेश बन्द कर दिया जायेगा । गर्भगृह में प्रवेश प्रतिबंधित रहेगा। बैठक में बताया गया कि श्री महाकालेश्वर मन्दिर में श्रद्धालुओं के लिये गर्भगृह में प्रवेश पूर्णत: प्रतिबंधित रहेगा। थर्मल स्क्रीनिंग मशीन से स्क्रीनिंग होगी मन्दिर में प्रवेश के समय मुख्य प्रवेश द्वार के सामने ही फुट सेनेटाइजेशन मशीन के द्वारा सेनेटाइज किया जायेगा। श्रद्धालुओं के हाथ धुलवाए जाएंगे। नॉन बॉडी टच थर्मल स्क्रीनिंग मशीन से श्रद्धालुओं की स्क्रीनिंग की जायेगी।