बजरंग पुनिया से गोल्ड की उम्मीदें बरकरार, ओलंपिक कुश्ती के सेमीफाइनल में पहुंचे।

अगर पुनिया सेमीफाइनल का मुकाबला जीतते हैं तो निश्चित ही गोल्ड के लिए देश वासियों की उम्मीद चार गुना भाड़ जाएंगी।

खेल, डेस्क रिपोर्ट। टोक्यो ओलंपिक (Tokyo olympic) में आज का दिन फिर एक बार उम्मीदें लेकर आया है। कुश्ती में 65 किलोग्राम वर्ग के क्वार्टरफाइनल में ईरानी पहलवान को धूल चटाकर भारतीय रेसलर बजरंग पुनिया (Indian wrester Bajrang Punia) ने सेमीफाइनल में प्रवेश किया। आपकी बता दें की सेमिनफिनल में पुनिया का मुकाबला अज़रबैजान (Azerbaijan) के हाजी अलियेव (Haji Aliyev) के साथ होगा।

Raj Kundra Pornography Case : मुंबई क्राइम ब्रांच आज करेगी शर्लिन चोपड़ा से पूछताछ!

जहां एक और पुनिया ने ओलंपिक में जीत दर्ज कर देश के लिए मेडल लाने की उम्मीदों को बरकरार रखा वही दूसरी ओर रेसलर सीमा बिसला (Seema Bisla) को ट्यूनीशिया की सारा हम्दी (Sara Hamid of Tunisia) के हाथों हार का सामना करना पड़ा।

बजरंग पुनिया से गोल्ड की उम्मीदें बरकरार, ओलंपिक कुश्ती के सेमीफाइनल में पहुंचे।

पुरुष हॉकी के ब्रोंज मेडल जीतने के बाद भारतीय महिला हॉकी (Indian women hockey) टीम से भी ब्रोंज पदक की उम्मीद लगाई जा रही थी, पर ग्रेट ब्रिटेन के साथ हुए मुकाबले में भारतीय टीम को 3–4 से हार का सामना करना पड़ा।

रेसलर बजरंग पुनिया का सेमीफाइनल मुकाबला 2:45 से शुरू होगा।आपको यह जानकर हैरानी होगी की सेमीफाइनल में उनके खिलाड़ी खेल रहे हाजी अलियेव तीन बार के वर्ल्ड चैंपियन हैं (Three time world champion) । अगर पुनिया मुकाबले को जीतते हैं तो देश के लिए वो एक मेडल और पक्का कर देंगे।अब तक भारत की झोली में कुल 5 मेडल आए हैं जिनके एक सिल्वर और 4 ब्रोंज हैं।