अच्छी खबर : DRDO ने बनाई कोरोना की दवा, इमरजेंसी इस्तेमाल को मंजूरी

ट्रायल के दौरान देखा गया कि इस दवा का इस्तेमाल करने वाले मरीज दूसरे मरीजों की तुलना में ढाई दिन पहले ठीक हो गए। 

मुख्यमंत्री

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट।  कोरोना संक्रमण की चैन को ब्रेक करने के लिए किये जा रहे प्रयासों में अब DRDO कीतरफ से खुशखबरी आई है।  DRDO ने कोरोना के इलाज के लिए एक दवा बनाई है। भारतीय वैज्ञानिकों द्वार तैयार कीगई ये दवा के बहुत कारगर होने के दावे किये जा रहे हैं।  केंद्र सरकार ने भी इसके इमरजेंसी इस्तेमाल को मंजूरी दे दी है।  जिसके बाद उम्मीद की जा रही है कि ये दवा जल्दी ही बाजार में आ जाएगी।

कोरोना महामारी पर नियंत्रण के लिए विश्व सहित भारत सरकार द्वारा किये जा रहे प्रयासों के बीच DRDO के इंस्टीट्यूट और न्यूक्लियर मेडिसिन एन्ड अलाइड साइंसेज (INMAS) ने डॉ रेड्डी लैब हैदराबाद के साथ मिलकर मिलकर एक दवा तैयार  की है जिसे टू डॉक्सी डी ग्लूकोज (2 DG) नाम दिया है। इस दवा को ड्रग्स कंट्रोलर जनरल ऑफ़ इण्डिया (DCGI ) ने इमरजेंसी इस्तेमाल के लिए मंजूरी दे दी है।

ये भी पढ़ें –  सीटी स्कैन मशीनों को लेकर ग्वालियर चंबल संभाग में श्रेय की राजनीति

दिल्ली में DRDO के INMAS डिपार्टमेंट के वैज्ञानिक  डॉ अनंत नारायण भटट के मुताबिक ट्रायल के तीसरे दौर में बड़े स्तर पर टैस्टिंग की गई जिसका परिणाम बहुत अच्छा आया। उन्होंने कहा कि इस दवा के इस्तेमाल से  मरीज में ऑक्सीजन की कमी की समस्या सामने आई ही नहीं उन्होंने कहा किहमें मंजूरी मिल गई है जल्दी ही डॉ रेड्डीज लैब के साथ मिलकर दवा का उत्पादन किया जाएगा। उन्होंने कहा कि दवा पावडर फॉर्म में है।  ट्रायल के दौरान देखा गया कि इस दवा का इस्तेमाल करने वाले मरीज दूसरे मरीजों की तुलना में ढाई दिन पहले ठीक हो गए।

ये भी पढ़ें – कोरोना में वर्कर्स की मदद के लिए आगे आये सलमान खान, किया मदद का एलान