रिक्त पदों पर जल्द नियुक्तियां करेगी सरकार, गैर सरकारी क्षेत्रों में भी खुलेंगे रोजगार के द्वार

विभिन्न विभागों मेंं खाली हजारों पदों पर जल्द ही भर्तियां शुरू होंगी| इसके साथ ही गैर सरकारी क्षेत्रों में भी सरकार रोजगार के अवसर तैयार करेगी

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट| मध्य प्रदेश सरकार (Madhyapradesh Government) के विभिन्न विभागों मेंं खाली हजारों पदों (Vacant Posts) पर जल्द ही भर्तियां (Recruitment) शुरू होंगी| इसके साथ ही गैर सरकारी क्षेत्रों में भी सरकार रोजगार (Employment) के अवसर तैयार करेगी। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj SIngh Chauhan) ने शुक्रवार को मंत्रालय में रोजगार के अवसर सृजित करने संबंधी बैठक में यह बात कही|

सीएम शिवराज ने कहा प्रदेश में सरकारी एवं गैर सरकारी क्षेत्रों में रोजगार के अधिक से अधिक अवसर सृजित किए जाकर सभी को रोजगार उपलब्ध कराया जाएगा। यह शासन की उच्च प्राथमिकता का विषय है। सभी शासकीय रिक्त पदों पर शीघ्र नियुक्तियां की जाएंगी। सभी विभाग अधिक से अधिक रोजगार के अवसर सृजित करने संबंधी कार्रवाई तत्परता से करें।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने उपचुनाव से पहले रिक्त पदों को भरने की प्रक्रिया तेज करने के निर्देश दिए थे। जिसके बाद 4 हजार पुलिस आरक्षक के पदों पर भर्ती की प्रक्रिया शुरु हो चुकी है। इसके लिए प्रोफेशनल एग्जामिनेशन बोर्ड के जरिए भर्ती प्रक्रिया 25 नवंबर से शुरू होगी, परीक्षा 6 मार्च 2021 को आयोजित की जाएगी। गृह, स्कूल शिक्षा विभाग समेत अन्य विभागों में हजारों की संख्या में भर्तियां होनी हैं|

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने विभिन्न विभागों को निर्देश दिए कि आगामी एक सप्ताह में रिपोर्ट तैयार करें कि उनके विभाग से संबंधित गैर सरकारी क्षेत्रों में रोजगार सृजित करने की क्या योजना है। ख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश का रोडमैप तैयार किया जा चुका है। इसमें रोजगार सृजन पर विशेष जोर दिया गया है तथा इसके लिए विस्तृत कार्ययोजना बनाई गई है। हमें स्थानीय उत्पादों को बढ़ावा देकर ‘लोकल को वोकल’ बनाना है।

नक्सल समस्या का समाधान रोजगार
मुख्यमंत्री ने कहा कि नक्सल समस्या का सबसे बड़ा समाधान रोजगार है। इन क्षेत्रों में रोजगार के अवसर उपलब्ध करवाने के लिए सरकार विशेष योजना बना रही है। मनरेगा आदि के माध्यम से अधिक से अधिक रोजगार उपलब्ध करवाया जाएगा।

पर्यटन से रोजगार
सीएम ने कहा कि पर्यटन से रोजगार के विशेष अवसर हैं। इसके लिए ‘बफर में सफर’, ‘जंगल सफारी’, ‘धार्मिक पर्यटन’, ‘ग्रामीण पर्यटन’, ‘जल पर्यटन’ आदि को बढ़ावा दिया जाएगा। प्रदेश में छोटे एवं मझोले उद्योगों को बढ़ावा दिया जा रहा है। प्रदेश में इन उद्योगों के कम से कम 10 एकीकृत क्लस्टर अगले 3 साल में निर्मित करेंगे। प्रदेश में ‘स्टार्ट योर बिजनेस इन 30 डेज़’ की व्यवस्था को लागू किया जा रहा है।

स्व-सहायता समूहों का महाअभियान
प्रदेश में स्व-सहायता समूहों को अधिक से अधिक प्रोत्साहित करने के लिए महा अभियान के रूप में कार्य किया जा रहा है। कौशल विकास के माध्यम से रोजगार के अवसर सृजित किए जा रहे हैं।

नवीन खदानों का शीघ्र आवंटन करें
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने निर्देश दिए कि खनिज क्षेत्र में अधिक से अधिक रोजगार के लिए नवीन खदानों का शीघ्र आवंटन करें। जितनी खदानें चालू की जा सकती हों की जाएं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here