ग्वालियर।अतुल सक्सेना।

मध्य प्रदेश में चल रहे सियासी घमासान के बीच भले ही गायब हुए अधिकतर विधायक वापस लौट आये हों लेकिन बयानबाजी का दौर अभी भी जारी है। अब सरकार के वरिष्ठ मंत्री डॉ गोविंद सिंह का बयान आया। डॉ गोविंद सिंह ने भाजपा पर आरोप लगाते हुए कहा कि भाजपा ने विधायकों के साथ मारपीट की, उन्हें जान से मारने की धमकी दी है इसलिए वे मीडिया के सामने गलत बोल रहे हैं।

होली मनाने के लिए अपने विधानसभा क्षेत्र लहार, भिंड जाने से पहले ग्वालियर में पत्रकारों से बात करते हुए कैबिनेट मंत्री डॉ गोविंद सिंह ने भाजपा पर गंभीर आरोप लगाए। उन्होंने गायब हुए विधायकों के बारे में भाजपा पर तंज कसते हुए कहा कि विधायकों पर भाजपा का दबाव है। हमारे विधायकों के साथ मारपीट की गई उन्हें प्रताड़ित किया गया, जान से मारने की धमकियां दी गई है। इसलिए डर के चलते ये विधायक मीडिया के सामने गलत बोल रहे है। मेरी खुद उनसे बात हुई है। हैरानी की बात ये है कि लापता विधायक सामने आते ही मीडिया के सामने इस बात को मनाने से इंकार कर रहे है। उनका साफ कहना है कि हमें किसी ने बंधक नही बनाया। कोई बीमारी तो कोई रिश्तेदार तो कोई तीर्थ जाने का बहाना बना रहा है, ऐसे में मंत्री ने भाजपा नेताओं पर सीधा आरोप लगाकर सियासी गलियारों में कई सवालों को जन्म दे दिया है।अब देखना है कि बीजेपी इस बयान को किस तरह से लेती है।

निर्दलीय विधायक शेरा पर भी कसा तंज

शेरा के गृह मंत्री बनने की इच्छा पर मंत्री ने कहा कि शेरा तो प्रधानमंत्री बनने का इच्छुक है । लेकिन समय से पहले भाग्य से ज्यादा किसी को मिला नहीं है। हमारी शेरा भाई को सलाह है कि किस्मत में होगा तो मिल जाएगा, ज्यादा उछलकूद न करें । उन्होंने कहा कि शेरा भाई आपके परिवार की प्रतिष्ठा है आप उसी के हिसाब से काम करें ।